Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

भारत नेपाल के सीमावर्ती क्षेत्र में बिना किसी रोक टोक के धड़ल्ले से चल रहा है खाद की तस्करी


भारत नेपाल के सीमावर्ती क्षेत्र में इन दिनों बिना किसी रोक टोक के धड़ल्ले से चल रहा है खाद की तस्करी जिसपर स्थानीय प्रशासन कस्टम और सीमा पर तैनात सभी सुरक्षा एजेंसियों सहित तहसील के सभी जिम्मेदार तस्करी के मामले में पूछे जाने पर हमेशा अनभिज्ञता बताते हैं। तथा किसी भी दशा में तस्करी नहीं होने की सफाई देते रहते हैं।


 मिली खबर के मुताबिक सीमावर्ती थाना क्षेत्र के परसा मलिक में स्थित रेहरा नाका अहिरौली सेवतरी मर्यादपुर पहाड़ी टोला सेवतरा झिंगटी आदि सभी नाकों से दिन रात चल रहा है उर्वरक की तस्करी वहीं भगवानपुर चौकी क्षेत्र के अंबेडकरनगर, मदरी, रघुनाथपुर, अहिरौली,


मैनिहवां आदि नाके से आए दिन बड़े पैमाने पर हो रही है हर वस्तु की तस्करी आपको बता दें कि तस्कर भारतीय खाद को नेपाल लेकर जाते हैं तथा उधर से कनाडियन मटर, पाकिस्तानी छुहारा काली मिर्च आदि भारतीय छेत्र में पहुंचाया जाता है तथा जब एक पीकप माल इकठ्ठा हो जाता है तो


उसे तत्काल लाद कर हटा देते हैं वहीं सूत्रों का यह भी कहना है कि रेहरा नाके से हर रोज लगभग एक ट्रक खाद तस्करी के जरिए नेपाल चला जा रहा है तस्करी के इस कार्य में स्थानिय पुलिस, कस्टम विभाग व सीमा पर तैनात सुरक्षा एजेंसियों के साथ साथ तहसील स्तर के अधिकारी भी संलिप्त हैं।


यही कारण है कि तमाम सूचनाओं के बाद भी जिम्मेदार छापेमारी करने का जहमत नहीं उठा रहे हैं इससे यह प्रतीत हो गया की सभी लोग अपना अपना हिस्सा लेकर बैठे हैं मौन तभी तो समाज सेवियों के लाख सूचना देने के बाद भी मौके पर नहीं जाते हैं ।


जिम्मेदार और नहीं तो सूचना देने वाले को भी सभी जिम्मेदार बरगलाने में लगे रहते हैं ऐसे में सवाल उठाना भी लाजमी है कि जब सीमा पर तैनात सुरक्षा एजेंसियों की बार्डर पर कड़ी निगरानी है और पुरे भारत में लाकडाउन है तो भारत से नेपाल कैसे हो रहा है तस्करी जिसको लेकर सीमावर्ती क्षेत्र के लोगों में चर्चाएं व्याप्त हैं।


इस संदर्भ में जिलाधिकारी महराजगंज डाक्टर उज्जल कुमार ने तस्करी के संदर्भ में अनभिज्ञता बताते हुए कहा कि अगर तस्करी के जरिए खाद नेपाल जा रहा है तो अभी हम दिखवाते हैं फिर कार्यवाही की जायेगी।