Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इंसेफ्लाइटिस मरीजों का हाल जानने के लिए पहुंचे बीआरडी मेडिकल कालेज,वार्ड में भर्ती मरीजों से की मुलाकात


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इंसेफ्लाइटिस मरीजों का हाल जानने के लिए बीआरडी मेडिकल कालेज पहुंचे। उन्होंने वार्ड में भर्ती मरीजों से मुलाकात की और इलाज के व्यवस्था के बारे मे जानकारी ली। मुख्यमंत्री ने मौके पर मौजूद आधिकारियों को और बेहतर इलाज के साथ साथ मरीजो को दी जाने वाली सुविधाओं के बारे दिशा निर्देश दिया।


 


इंसेफ्लाइटिस के मरीजों से ली जानकारी


 


मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ गोरखनाथ मंदिर से निकलकर सीधे बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज पहुंच गए। वह इंसेफ्लाइटिस वार्ड में पहुंच गए। वहां पर अधिकारियों और डाक्‍टरों को निर्देश देने के बाद वह एनआइवी में स्थित आइसीएमआर पहुंचे और वहां भी उन्‍होंने निरीक्षण किया।


 


दवाओं का हो बेहतर इंतजाम


 


मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष मानसून 15 दिन पूर्व आ गया। गोरखपुर व बस्ती मंडल में 90 प्रतिशत जेई व एइएस के मरीज आते है। उन्होंने ने कहा कि विगत तीन बर्षों में मरीजों की संख्या और मौतों पर काफी अंकुश लगा है। उन्‍होंने कहा कि सावधानियो के बावजूद यदि किसी को इंसेफ्लाइटिस हो जाय तो उसे अच्छे से अच्छा इलाज दिया जाना चाहिए। इसमें किसी तरह की कोताही नहीं करनी है। इंसेफ्लाइटिस पर यदि नियंत्रण मिला है तो उसे नियंत्रण में ही रखना होगा।


 


इस वर्ष एक साथ कई चुनौतियां


 


मुख्‍यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष चुनौतियां बड़ी है क्योंकि जेई व एइएस, डेंगू के साथ कोरोना भी आ गया है। हमें इन चुनौतियों का एक साथ मुकाबला करना है। सिर्फ मुकाबला ही नहीं करना है अपितु सभी को काबू में लाना होगा। यह कार्य यहां के डाक्‍टर ही कर सकत हैं। वहां पर निरीक्षण करने और जानकारी लेने के बाद उन्‍होंने सभी को अपनी ड्यूटी पर मुस्‍तैद रहने को कहा। उसके बाद मुख्‍यमंत्री मेडिकल कालेज के प्राचार्य कार्यालय के आडिटोरिय में पहुंचे।


 


कार्यों की हुई समीक्षा


 


मुख्यमंत्री ने वहां पर कोरोना, जेई व एइएस तथा डेगू की रोकथाम के लिए अब तक उठाए गए कदमों की समीक्षा भी की। बैठक मे स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने उनके सामने भविष्य में किए जाने वाले कार्यों की व्यापक कार्य योजना का प्रस्तुत की। बैठक मे गोरखपुर एवं बस्ती मंडल के स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी, प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा एवं स्वास्थ्य, मंडलायुक्‍त, गोरखपुर और बस्ती मंडल के सभी जिलाधिकारी मौजूद थे। मुख्यमंत्री ने आधिकारियों से कोविड 19के नियंत्रण के लिए विशेष सर्विलांस अभियान के संचालन की जानकारी भी ली।