Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

झोलाछाप डाक्टर के इंजेक्शन लगाने से किशोरी की मौत


शेखर श्रीवास्तव की रिपोर्ट 


उग्र ग्रामीणों ने किया क्‍‍लीनिक में तोड़फोड़,


दवा दुकानदार व चिकित्सक पुलिस हिरासत में,


तबीयत खराब होने के दौरान डॉक्टर के इंजेक्शन लगाने से किशोरी की हो गई मौत,


जिससे खड़ा हो गया हंगामा,


पहले आरोपी चिकित्सक को घेर लिया,


फिर इंजेक्शन देने वाली दवा की दुकान में की तोड़फोड़,


पुलिस ने मौके पर पहुंचकर किसी तरह संभाली स्थिति,


 


जौनपुर। जिले के मड़ियाहूं कोतवाली क्षेत्र के मनीपुर गांव निवासी सुरेंद्र कुमार सरोज की पुत्री ओरल (13) को कुछ दिनों पहले घाव हो गया था।


शुक्रवार की शाम सुरेंद्र बेटी को लेकर गांव में ही क्लीनिक चलाने वाले लालजी मौर्य के पास गए। चिकित्सक ने किशोरी को घाव सूखने का इंजेक्शन लगा दिया।


घर पहुंचने के कुछ देर बाद ही किशोरी की तबीयत ज्यादा बिगड़ी और देर रात उसकी मौत हो गई।


सूचना मिलते ही ग्रामीण क्लीनिक पर पहुंचे और चिकित्सक को घेर लिया। मामला गर्माते देख डॉक्टर ने माफी मांगते हुए बताया कि वह इंजेक्शन बगल के सुदनीपुर गांव स्थित दवा की दुकान से लाया था।


दुकानदार ने ही एक्सपायरी डेट की दवा दे दी थी। गुस्साए ग्रामीणों ने दुकान पर पहुंचकर हंगामा किया और दुकान में तोड़फोड़ कर दी।


इस दौरान दुकानदार ने दरवाजा बंद कर खुद को बचाया।


सूचना पाकर कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने किसी प्रकार लोगों को शांत कराते हुए वापस भेज दिया।


कोतवाल त्रिवेणी लाल सेन ने बताया कि दवा के दुकानदार और चिकित्सक को हिरासत में लिया है।