Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

लूट की घटना मे दो लोग गिरफ्तार,कब्जे से एक लाख इकतालीस इजार नौ सौ रुपये बरामद 


जनपद मे दिलीप सिहं पुत्र दीवान सिह निवासी गांव जोगपुरा थाना राया मथुरा ने समय रात्रि 23.00 बजे चार व्यक्तियों ने घर में घुसकर उसके साथ मारपीट करने व तमन्चो के वल पर अलमारी का ताला तोडकर साढे चार लाख रुपये लूट ले जाने के सम्बन्ध में प्रार्थना पत्र दिया जिसके आधार पर थाना राया पर मु0अ0सं0- 281/2020 धारा 394 भादवि पंजीकृत किया गया था । 


जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मथुरा ने इस घटना को गम्भीरता से लेते हुये घटना के सफल अनावरण हेतु पुलिस अधीक्षक देहात श्रीश्चन्द्र व पुलिस अधीक्षक अपराध राधेश्याम राय , साहायक पुलिस अधीक्षक अनुरुद्ध कुमार क्षेत्राधिकारी मांट मथुरा को निर्देश दिये निर्देशो के अनुपालन में प्रभारी निरीक्षक, स्वाट एंव सर्विलांश प्रभारी द्वारा दिनांक 27.08.2020 को संदिग्ध प्रतीत होने के कारण वादी को पूँछताछ हेतु थाना हाजा पर लाया गया था वादी दिलीप सिहं उपरोक्त से घटना के सम्बन्ध में कडाई से पूँछताछ की गयी तो वादी दिलीप कुमार ने अपने जुर्म को इकवाल करते हुये वाताया कि साहब मै फौज में भर्ती होना चहाता था मेरी उम्र निकल चुकी थी इसलिय मैने फर्जी आधार कार्ड व निवास प्रमाण पत्र व फर्जी मौहर तैयार की थी । मुझे पैसे की आवश्यकता थी । घर वाले पैसे नही दे रहे थे । इस लिये मैने अपने घर में अलमारी में रखे अपने भाई इन्द्रजीत की दुकान की विक्री के रुपये चोरी कर लिये थे । अभियुक्त की निशादेही पर अलमारी से चोरी किये एक लाख इकतालीस हजार नौ सौ रुपये बुर्जी के भूसे से वरामद हुये, तथा फर्जी आधार कार्ड व फर्जी निवास प्रमाण पत्र और एक फर्जी मोहर वादी/अभियुक्त के कमरे से बरामद हुये । तथा सह अभियुक्त से एक प्रिंटर ,एक लैपटांप,एक कीबोर्ड, दो मोहरे और एक स्याई पैड वरामद हुये । 


 संक्षिप्त विवरणः


 वादी/अभियुक्त दिलीप सिहं से घटना के सम्बन्ध में कडाई से पूँछताछ की गयी तो वादी/अभियुक्त पहले इधर उधर की वाते करने लगा और किसी भी वात का सन्तोषजनक जवाव नही दिया । फिर उससे कडाई से पूँछताछ की गयी तो वह घवराने लगा और कहने लगा साहव यह घटना मैने स्वयं कारित की है क्यो कि मै फौज की भर्ती देख रहा था और फौज में भर्ती होने के लिये प्रयासरत था मुझसे एक व्यक्ति फौज में भर्ती कराने के लिये रुपये की मांग कर रहा था लेकिन मेरे पास रुपयों की कोई व्यवस्था नही थी इस सम्बन्ध में मैने अपने पिता जी से भी कहा था और गांव के मनोज,प्रवीन,जयवीर,रामगोपाल.श्रीराम,जयसिहं आदि लोगो से भी रुपये की मदद कराने को कहा था लेकिन वो भी मेरी मदद नही कर पाये जब मुझे कहीं से रुपयों की व्यवस्था होने का कोई रास्ता नही दिखाई दिया तब मैने षडयन्त्र के तहत अपने बडे भाई इन्द्रजीत की दुकान की विक्री के घर में रखे हुये रुपयों को चुराने के लिये लूट का षडयन्त्र वनाया उस षडयन्त्र के तहत मैने दि0 25/8/2020 की रात्रि में समय करीब 11.00 बजे अपने कमरे में चार बदमाशों का आना दिखाया और तमन्चे के वल पर एंव अपने साथ मारपीट करके घर से अलमारी में रखे रुपये लूट कर व अपने को पकड कर ले जाना बताया और अपने खेत में बुर्जी के पास पडे गोवर मे बदमाशो द्वारा धक्का मारकर गिरा देना और छोडकर भाग जाना बताया । मैने स्यमं अपने सिर को सीडी में मारकर चोट पहुँचाकर वदमाशो द्वारा चोट पहुँचाना बताया और मुँह मे कपडा ठूंसना भी गलत वताया है । ना तो कोई वदमाश आया था और ना ही किसी ने मेरे साथ मारपीट की थी मैने फौज में भर्ती होने के लिये घर में रखी अलमारी का स्यमं ताला तोडकर उसमें रखे रुपये चोरी की है । वह रुपये मेरे भाई इन्द्रजीत की दुकान की विक्री के थे । साहब फौज में भर्ती होने के लिये 18 से 21 वर्ष निर्धारित होती है मेरी उम्र निकल गयी थी इसलिये मैने फौज में भर्ती होने के लिये फर्जी आधार कार्ड सुरेन्द्र पुत्र रामपाल सिहं निवासी गैंजरा थाना राया मथुरा से बनवाया था और ग्राम प्रधान हथौनी पंचायत समिति सेवा भरतपुर राजस्थान के पते का फर्जी निवास प्रमाण पत्र व फर्जी ग्राम प्रधान के नाम की मौहर, स्यमं बनाकर तैयार किया है मेरा फर्जी आधार कार्ड और फर्जी निवास प्रमाण पत्र औऱ फर्जी ग्राम प्रधान की मौहर मेरी उपरी मंजिल पर वने कमरे में रखी है । तथा अलमारी से चोरी किये हुये रुपये इन्जन के पास वनी बुर्जी में भूसे में रखे है । यदि आप मुझे ले चले तो वह चोरी किये गये रुपये व फर्जी आधार कार्ड व निवास प्रमाण पत्र तथा मौहर वरामद करा दूंगा । वादी/अभियुक्त की निशान देही पर अपने ही घर के कमरे में रखी अलमारी से चोरी किये एक लाख इकतालीस इजार नौ सौ रुपये, एक मौहर एक फर्जी आधार कार्ड,व फर्जी चरित्र प्रमाण पत्र बरामद हुये तथा सह अभियुक्त सुरेन्द्र पुत्र रामपाल सिहं निवासी गैंजरा थाना राया मथुरा के कब्जे से से एक प्रिंटर ,एक लैपटांप,एक कीबोड, दो मौहर और एक स्याई पैड वरामद हुये । तथा वादी/अभि0 एंव उसके भाई इन्द्रजीत द्वारा यह भी वताया गया कि मैने पिता जी के कहने पर साढे चार लाख रुपये लिखवा दिये थे । ताकि पुलिस पर प्रभाव पडे । गिरफ्तार अभियुक्तण के विरुद्व आवश्यक विधिक कार्यवाही कर जेल भेजा जा रहा है । 


 गिरफ्तार अभियुक्तों के नाम पताः


 1. दिलीप कुमार पुत्र दीवान सिहं निवासी जोगपुरा थाना राया जनपद मथुरा  


 2. सुरेन्द्र पुत्र रामपाल सिहं निवासी गैंजरा थाना राया जनपद मथुरा


बरामदगी


1. वादी/अभि0 दिलीप से चोरी किये गये एक लाख इकतालीस इजार नौ सौ रुपये, एंव एक मौहर फर्जी, एक फर्जी आधार कार्ड,व एक फर्जी निवास प्रमाण पत्र बरामद हुये 


2. अभि0- सुरेन्द्र से एक प्रिंटर ,एक लैपटांप,एक कीबोड, दो मौहरे और एक स्याई पैड वरामद हुये । 


पंजीकृत अभियोग


मु0अ0स0- 281/2020 धारा 380/411/420/467/468/471 भादवि थाना राया मथुरा ।


गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम


1. प्रभारी निरीक्षक सूरज प्रकाश शर्मा (थाना राया मथुरा )


2. निरीक्षक सदुवन राम गौतम प्रभारी स्वाट टीम मथुरा । 


3. निरीक्षक जसवीर सिहं क्राइम (थाना राया मथुरा )


4. जसवीर सिहं सर्विलांस प्रभारी जनपद मथुरा 


5. उ0नि0 मोहन लाल याव (थाना राया मथुरा )


6. उ0नि0 रोहित सिन्धू (थाना राया मथुरा )


7. हे0का0 808महेन्द्र सिहं (थाना राया मथुरा )


8. का0 1530 राजेश कुमार (थाना राया मथुरा )


9. हे0का0 493 सुभाष चन्द (स्वाट टीम मथुरा)


10. हे0का0 696 नरेन्द्र कुमार (स्वाट टीम मथुरा)


11. 10.हे0का0 802 श्रीचन्द (स्वाट टीम मथुरा)


12. का0 1433 अजेन्द्र सिहं (स्वाट टीम मथुरा)


13. का0 2538 सतेन्द्र कुमार (स्वाट टीम मथुरा)


14. का0 388 दीपेन्द्र कुमार (स्वाट टीम मथुरा)


15. का0 गोपाल सिहं ( सर्विलांस टीम मथुरा )


16. का0 617 अभिजीत (स्वाट टीम मथुरा)


17. का0 1219 अवनीश कुमार (स्वाट टीम मथुरा)