Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

पत्नी ने पति की गैर मौजूदगी में प्रेमी के साथ फर्जीकर पासपोर्ट पर पति के स्थान पर प्रेमी का फोटो लगाकर विदेश हुई फुर्र 

 



 


मुंबई में नौकरी कर रहे व्यक्ति की पत्नी ने अपने पति की गैर मौजूदगी में प्रेमी के साथ षडयंत्र करके फर्जी पासपोर्ट और पति के स्थान पर प्रेमी का फोटो लगाकर वीजा बनवा लिया और ऑस्ट्रेलिया भाग गए। पति जब अपना पासपोर्ट बनवाने पहुंचा, तो उसे पता चला कि उसके नाम का तो पासपोर्ट पहले से ही जारी हो चुका है। इसके बाद उसे पूरे षडयंत्र का पता चला।अब एसपी जयप्रकाश के आदेश पर थाना गजरौला में पत्नी और उसके प्रेमी के खिलाफ कई धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गयी है।गजरौला थाना क्षेत्र के गांव दमगढ़ी निवासी गुरदेव सिंह ने एसपी को तहरीर देकर बताया, कि वह मुंबई में नौकरी करता है। उसका बेटा ऑस्ट्रेलिया में पढ़ाई करता है।उसकी पत्नी कुलवंत कौर परिवार के साथ रहती हैं.


उनकी गैरमौजूदगी में डडुवा पिपरिया पूरनपुर निवासी संदीप सिंह पुत्र सुखदेव सिंह का उनके घर पर आना जाना हो गया और पत्नी कुलवंत कौर से मित्रता करके उससे संबंध बना लिए. संदीप और उनकी पत्नी कुलवंत ने आपस में षडयंत्र करके उनके नाम पते और अभिलेखों में हेराफेरी करके पीड़ित के फोटो के स्थान पर अपना फोटो लगा कर फर्जी पासपोर्ट बनवा लिया. पत्नी का फर्जी पति बनकर पत्नी की सहमति से ऑस्ट्रेलिया चले गए.पीड़ित ने कहा कि दोनों ने मेरे साथ धोखाधड़ी करके अपराधिक षडयंत्र किया है. एसपी के रिपोर्ट दर्ज करने के आदेश पर गजरौला थाने में संदीप सिंह और पीड़ित की पत्नी कुलदीप कौर के खिलाफ धारा 419, 420, 467, 468, 471 और 120 बी के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है. पत्नी अपने प्रेमी के साथ अब वापस आ चुकी है, वहीं, पत्नी के पति और प्रेमी में दो बार आमने सामने हाथापाई भी हो चुकी है.एक शादी-शुदा युवती तीन बच्चों की मां अपने पति की जगह अपने प्रेमी को ऑस्ट्रेलिया ले गई. इतना ही नहीं पासपोर्ट बनने से पहले जरूरी कागज भी सारे पति के लगाए, लेकिन फ़ोटो अपने प्रेमी का लगा लिया और प्रेमी के साथ आस्ट्रेलिया जा कर वापस भी आ गई, लेकिन दोनों के झगड़े को एक तरफ रखकर ये देखें कि किस तरह फर्जी LIU रिपोर्ट लगाई गई और किस तरह पुलिस ने जांच की. बड़ी बात तो ये है कि कई दिन तक जब पीड़ित की गजरौला थाने की पुलिस ने नहीं सुनी तो पीड़ित ने शिकायत पुलिस अधीक्षक जय प्रकाश यादव से की. मामले को गंभीरता से समझते हुए थाना गजरौला में एफआईआर दर्ज की गई।