Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कुशीनगर /खड्डा :108 नम्बर का एम्बुलेंस मरीज को बुलाना पड़ा महंगा, मरीज तङप रहा लेकिन एम्बुलेंस पर तैनात कर्मचारी देते रहे ड्राइरेक्सन....? 


जनपद कुशीनगर के तहसील खड्डा अन्तर्गत ग्राम सभा भैसहा मे आज दिनांक 21/10/2020 को लगभग 10:00 बजे के आसपास गांव के एक किसान ट्रैक्टर खेत की जुताई करने के लिए बंधे के रास्ते ले जाते समय ट्रैक्टर अचानक पलट गया। ड्राइवर ट्रैक्टर के निचे दब गया गांव वाले के मद्दत से ड्राइवर को निकाला गया। जिस पर गांव के लोगों ने डायल 108 पर फोन करके एम्बुलेंस मंगवा लेकिन एम्बुलेंस पर तैनात (एम्बुलेंस नम्बर UP32 EG 0112) कर्मचारि एवं ड्राइवर ने घायल व्यक्ति से अभद्रता भाषाओं का प्रयोग करते हुए अनेकों प्रकार की सुझाव देना चालू कर दिया जैसे तुम अपने साधन से क्यों नही गये,? क्यो एम्बुलेंस को फोन किए? इसी लिए पडरौना के लोग पिछे है अनेकों प्रकार के बातों में उलझाने 10-15 मिनट उलझाए रहा यह देख गांव के लोगों ने कङी शब्दों में एम्बुलेंस पर तैनात कर्मचारियों से बात की तब जाकर मरीज को अस्पताल ले गए। ऐसे लोग सरकार को जनता के बीच बदनाम करने मे लगे हुए हैं जिससे सरकार के प्रति गलत संदेश जाए। 


बताते चलें की सरकार का 108,112 इत्यादि महत्वाकांक्षी योजना हैं लेकिन ऐसे कर्मचारियों के चलते सकार बदनाम हो रही लेकिन इन कर्मचारियों के ऊपर बैठे अधिकारी गण क्या कर रहे है?


जब उपरोक्त प्रकरण में प्रभारी चिकित्साधिकारी खड्डा से बात हुई तो उन्होंने कहा एम्बुलेंस (108) हमारे चार्ज में नहीं आता है मुख्य चिकित्साधिकारी कुशीनगर से आप इसकी जानकारी ले सकते। 


क्या कहते हैं मुख्य चिकित्साधिकारी कुशीनगर 


हम इस समय मिटिंग हूं आप से बाद मे बात करता हूं