Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

सामूहिक दुष्कर्म कि पीड़िता दलित किशोरी को बयान बदलने के लिए थाने में जूता चप्पल और हाथ लात से पीटा और.......? :पुर्व मंत्री अवधेश प्रसाद


पीड़िता पर ही सरकार दिखा रही शक्ति :सपा


गांव पहुंच प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित परिवार कालिया हाल-चाल, हाल अपना सुधारने पर आंदोलन की चेतावनी


अयोध्या। प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर मुखर रही सूबे की प्रमुख विपक्षी पार्टी समाजवादी पार्टी ने एक बार फिर भाजपा की योगी सरकार को घेरा है। पार्टी का कहना है कि योगी सरकार मिशन शक्ति अभियान चला रही है । इस अभियान में सरकार और पुलिस अपराधियों और आरोपियों पर शक्ति दिखाने के बजाय पीड़िता पर ही शक्ति दिखा रही है। सामूहिक दुष्कर्म कि पीड़िता दलित किशोरी को बयान बदलने के लिए थाने में जूता चप्पल और हाथ लात से पीटा गया। सपा इसको बर्दाश्त नहीं करेगी। सरकार और पुलिस का रवैया नहीं बदला तो व्यापक आंदोलन छेड़ा जाएगा।


बुधवार को समाजवादी पार्टी का प्रतिनिधिमंडल महाराजगंज थाना क्षेत्र निवासी पीड़ित दलित किशोरी के परिवार का हाल-चाल लेने के बाद मीडिया से मुखातिब था। पार्टी ने आरोप लगाया कि प्रदेश में जंगलराज कायम हो गया है।


पूर्व कैबिनेट मंत्री व पार्टी के वरिष्ठ नेता अवधेश प्रसाद ने


कहा कि महिलाओं के लिए प्रदेश में रहना दूभर हो चला है। प्रदेश का कोई भी जिला ऐसा नहीं बचा है जहां आये दिन महिलाओं के साथ अपराध न हो रहा हो, लेकिन योगी सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही ।श्री प्रसाद ने कहा कि कानून व्यवस्था की बदतरी का आलम यह है कि अब लोगों का अपने घरों से निकलना दूभर हो गया है। उन्होंने कहा कि जिले के महराजगंज थाना क्षेत्र निवासी दलित किशोरी के साथ दबंगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। शासन-प्रशासन के किसी नुमाइंदे ने इस घटना को गंभीरता से नहीं लिया।जिसके चलते गरीबों का इस सरकार से विश्वास पूरी तरह से उठ गया है। मांग रखी कि दुष्कर्म पीड़ित महिलाओं और बालिकाओं को सरकार 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराए। चेतावनी दी कि कानून व्यवस्था को सुधारने के लिए अगर जल्द प्रयास नहीं हुआ, तो समाजवादी पार्टी सड़कों पर उतरेगी ।


पूर्व मंत्री तेज नारायण पांडेय पवन ने कहा कि समाजवादी पार्टी की सरकार में उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बनाने का प्रयास शुरू हुआ था,लेकिन योगी सरकार ने पूरी तरह से इसको पानी में मिला दिया। योगी सरकार और उनकी पुलिस मिशन शक्ति के नाम पर झूठा ढिंढोरा पीट रही है। महिलाओं और बालिकाओं को सरकार को कानूनी संरक्षण उपलब्ध कराना चाहिए लेकिन इस भाजपा की सरकार में उल्टा हो रहा है। गांव के दबंगों ने दलित किशोरी के साथ सामूहिक दुष्कर्म किया और पुलिस पीड़ित किशोरी को ही थाने ले जाकर पीट रही है। आरोपियों को बचाने के लिए बयान बदलने का दबाव डाला जा रहा है।उन्होंने चेतावनी दी कि आपराधिक घटनाओं की बाढ़ पर प्रभावी नियंत्रण के लिए कठोर कदम न उठाए गए तो समाजवादी पार्टी सड़क से लेकर संसद तक संघर्ष करेगी।


प्रवक्ता समाजवादी पार्टी अयोध्या चौधरी बलराम यादव ने बताया कि पूर्व कैबिनेट मंत्री अवधेश प्रसाद के नेतृत्व में सपा नेताओं का एक प्रतिनिधिमंडल दुष्कर्म पीड़िता के गांव गया और परिवार का हालचाल लिया।पीड़ित परिवार को हर संभव मदद करने का वादा किया है। समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमंडल ने पीड़ित परिवार को यह विश्वास दिलाया है कि पार्टी सदैव उनके साथ खड़ी है। प्रतिनिधिमंडल में विधानसभा अध्यक्ष शिव बरन यादव पप्पू ,ब्लॉक अध्यक्ष तरजीत गौड़,राम भवन यादव, छोटे लाल यादव, ओपी पासवान, संजीत सिंह, संटी तिवारी आदि शामिल रहे।