Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

सीएम योगी ने दिए निर्देश रैपिड एंटीजन टेस्ट को अब 20 हजार से बढ़ाकर 50 हजार टेस्ट प्रतिदिन किया जाए


उत्तर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने टेस्टिंग संख्या बढ़ाने के निर्देश दिए हैं. सीएम योगी ने कहा है कि रैपिड एंटीजन टेस्ट को अब 20 हजार से बढ़ाकर 50 हजार टेस्ट प्रतिदिन किया जाना चाहिए. CM योगी ने कहा, 'वर्तमान में प्रदेश ने 55 हजार टेस्ट प्रतिदिन की टेस्टिंग क्षमता अर्जित की है. इसे और बढ़ाने की आवश्यकता है.'


CM योगी ने रैपिड एन्टीजन टेस्ट के माध्यम से रोजाना किए जा रहे 20 हजार टेस्ट को बढ़ाकर 50 हजार प्रतिदिन करने को कहा. बता दें कि मुख्यमंत्री गुरुवार को अपने सरकारी आवास पर एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे.


डोर-टू-डोर सर्वे में तेजी लाने के निर्देश


इसके अलावा योगी ने अधिकारियों को डोर-टू-डोर सर्वे कार्य में तेजी लाने का निर्देश भी दिया. उन्होंने कहा कि इसके माध्यम से अधिक से अधिक लोगों की मेडिकल स्क्रीनिंग की जाए. उन्होंने कहा कि मेडिकल स्क्रीनिंग में कोविड-19 के संक्रमण की दृष्टि से संदिग्ध पाए जाने वाले लोगों की रैपिड एन्टीजन टेस्ट के माध्यम से जांच की जाए. मेडिकल जांच में संक्रमण की पुष्टि होने पर ऐसे लोगों के उपचार की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए.


साथ ही योगी ने प्रत्येक स्तर पर स्वच्छता और सैनिटाइजेशन की कार्यवाही को प्रभावी ढंग से संचालित करने का निर्देश देते हुए कहा कि जिलों के नोडल अधिकारी प्रतिदिन अपने-अपने जनपद की रिपोर्ट मुख्य सचिव को दें. उन्होंने कहा कि मुख्य सचिव इस रिपोर्ट के आधार पर मुख्यमंत्री को पूरी जानकारी उपलब्ध कराएंगे.


'पशुओँ में होने वाले रोगों पर विशेष ध्यान'


मुख्यमंत्री ने ये भी कहा कि बरसात के मौसम में पशुओं में होने वाले रोगों के नियंत्रण पर विशेष ध्यान दिया जाए. उन्होंने कहा कि सभी गो-आश्रय स्थल के गोवंशों के नियमित चिकित्सीय परीक्षण की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए. साथ ही उनके लिए हरे चारे का प्रबन्ध किया जाए. उन्होंने प्रमुख सचिव पशुपालन को इन समस्त कार्यों की नियमित निगरानी के निर्देश भी दिए.