Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

फिरौती की रकम देने आई पत्नी के साथ 88 दिनों तक किया बलात्कार


बलात्कार लूट अपहरण की घटना की तीन वर्ष बाद प्राथमिकी दर्ज


एटा जनपद के थाना कोतवाली नगर क्षेत्र में 3 वर्ष पूर्व व्यापारी का अपहरण कर ₹700000 लूट कर बंधक बना फिरौती की रकम लेकर आई व्यापारी की पत्नी को भी बंधक बनाकर 88 दिनों तक सामूहिक दुष्कर्म किए जाने की घटना की प्राथमिकी अपर पुलिस महानिदेशक आगरा के आदेशों पर कोतवाली नगर में आज दर्ज कर ली गई है। घटना के आरोपियों में एक स्वयं को पत्रकार बताता है वही एक भाजपा नेता सहित महिला व्यापारी तथा उसका भाई भी नामजद किया गया है। घटना क्रम के अनुसार जनपद फिरोजाबाद के टूंडला कस्बा निवासी अनिल शुक्ला मोवीऑयल लुब्रिकेंट सप्लाई का व्यापार करते हैं। जिनसे जीटी रोड एटा स्थित गोस्वामी ऑटोमोबाइल की स्वामी विमलेश गोस्वामी द्वारा 2500000 रुपए का मोवीऑयल खरीदा गया।


जिसमें कुछ रूपया नगद देने के पश्चात दो चेक 17 लाख 60 हजार रुपया के दे दिए गए लेकिन बाद में उनके द्वारा फोन कर चैक न लगाने तथा नगद रुपया ले जाने की बात कही गई।दिनांक 13 नवंबर 2017 को जब व्यापारी अनिल शुक्ला पैसा लेने गोस्वामी ऑटो मोबाइल पर विमलेश गोस्वामी के पास पहुंचा तो उन्होंने ₹700000 नगद देकर अपने ही आदमी जसवंत यादव जो स्वयं को पत्रकार बताता है के साथ उसकी गाड़ी में विठलवा दिया। जिसने आगरा रोड स्थित हजारा नहर पर अपने दो अन्य साथियों के साथ तमंचा लगाकर रुपया लूट लिया और व्यापारी अनिल शुक्ला को बंधक बनाकर दरगपुर गांव स्थित ट्यूबवेल के गड्ढे में हाथ पैर बांधकर डाल दिया। 3 दिन बाद जसवंत यादव द्वारा व्यापारी को छोड़ने की एवज में उसकी पत्नी विमलेश से एक करोड़ रूपया की मांग की गई। व्यापारी की पत्नी 23 तोला सोना 1 किलो चांदी तथा ₹450000 नकद लेकर पहुंची तो जसवंत यादव विमलेश गोस्वामी नरेंद्र उपाध्याय प्रेम गोस्वामी उर्फ मामा द्वारा अपहत की पत्नी मिथिलेश को भी बंधक बनाकर अपने घर की तीसरी मंजिल में 88 दिनों तक रखा तथा लगातार सामूहिक दुष्कर्म किया। उसकी दो गाड़ियां यूपी एके 8305 सियाज तथा यूपी 83 ए एफ 6251 डिजायर घर में रखे चेक बुक एटीएम रुपया पैसा तथा जमीन आदि के कागजात भी उसके घर टूंडला से जबरन दबंगई से ले आए। पीड़ित व्यापारी सामूहिक दुष्कर्म की शिकार महिला न्याय की गुहार लगाती दर-दर की ठोकरें खाती रही लेकिन उसकी प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सकी। लंबे समय तक प्रयासों के बाद आज अपर पुलिस महानिदेशक आगरा के आदेशों पर पीड़िता की प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है । थाना प्रभारी निरीक्षक कोतवाली नगर अशोक कुमार ने बताया की घटना करीब 3 वर्ष पूर्व की है इसकी जांच कर कार्यवाही की जाएगी।