Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

बकाया विद्युत बिल ना जमा किए जाने पर, बिजली विभाग ने काटा विद्युत कनेक्शन


मुस्तफाबाद, कोयली पुरवा, भैयापुरवा के विद्युत उपभोक्ता प्रभावित


भाकियू जनशक्ति संगठन ने किया जरवल पावर स्टेशन का किया घेराव


जरवल(बहराइच)। जरवल कस्बा में स्थापित पावर स्टेशन पर गुस्साए भारतीय किसान यूनियन (जनशक्ति) संगठन के जिलाध्यक्ष धरम चन्द्र (महेश) के नेतृत्व में एक दर्जन से अधिक महिला व पुरुष कार्यकर्ताओं ने पावर स्टेशन पर जमकर किया हंगामा और विद्युत विभाग के खिलाफ नारेबाजी किया तथा जेई विद्युत विभाग जरवल दिनेश कुमार को सौंपा मांग पत्र।


बिजली विभाग में कर्मचारियों ने बिजली का बिल ना जमा करने की स्थिति में ग्राम मुस्तफाबाद भया पुरवा और कोयलीपुरवा के विद्युत उपभोक्ताओं का कनेक्शन काटकर उन्हें अविलंब विद्युत बिल जमा करने का नोटिस दिया था। इसी बात को लेकर भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने विद्युत विभाग पर आरोप लगाते हुए कहा कि वैश्विक महामारी के किसान परेशानी की स्थिति में है और उनके ऊपर विद्युत कनेक्शन का काटा जाना अत्यधिक दिक्कतों का सामना करने के बराबर है। इसलिए विद्युत विभाग को कनेक्शन ना काटकर उन्हें थोड़ी मोहलत देनी चाहिए जिससे वे किस्तों में अपना बकाया विद्युत बिल जमा कर सके। विद्युत विभाग की यह तानाशाही रवैया हम सभी किसानों को मंजूर नहीं है।इस के लिए हम उच्चाधिकारियों तक अपनी बात पहुंचाएंगे। मीडिया को अवगत कराते हुए समाजसेवी अनूप कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि इस वक्त कोरोना काल में किसानों का विद्युत कनेक्शन काटा जाना उचित नहीं है। और किसान धीरे-धीरे करके बिल जमा करेंगे, उन्होंने उच्च अधिकारियों से विद्युत कनेक्शन ना काटे जाने की मांग की। जनशक्ति के जिलाध्यक्ष धरम चन्द्र (महेश) ने कहा कि अगर हम लोगों की बात नहीं मानी गई, तो हम लोग जिले स्तर पर व्यापक धरना प्रदर्शन करके उच्च अधिकारियों तक अपनी बात पहुंचाऐगें। उन्होंने कहा कि हम बिजली उपभोक्ताओं से अपील करते हैं कि वह किश्तवार करके अपना बिल जमा कर दें, हमारा मकसद किसी भी बिजली उपभोक्ता को परेशान करने का नहीं है, लेकिन जो उच्च अधिकारियों का निर्देश होता है, उसका पालन कराना आवश्यक होता है, इसी दृष्टिकोण से बकायेदारों के विद्युत कनेक्शन काटे जा रहे हैं। इस दौरान काफी संख्या में महिला व पुरुष एवं भाकियू कार्यकर्ता मौजूद रहे।