Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कुशीनगर :जनपद में सुरक्षा व्यवस्था को और सुदृढ़ बनाने के उद्देश्य से जिले में 3 नए थानों का प्रस्ताव शासन को किया प्रेषित


उत्तर प्रदेश के जनपद कुशीनगर पुलिस अधीक्षक ने जनपद में सुरक्षा व्यवस्था को और सुदृढ़ बनाने के उद्देश्य से जिले में 3 नए थानों का प्रस्ताव शासन को प्रेषित किया गया है। इस तरह अगर शासन से जिले में 3 नए थानों की मंजूरी मिल जाती है तो कुशीनगर में कुल 21 थाने हो जाएंगे। प्राप्त जानकारी के मुताबिक शासन के निर्देश पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह ने जिले में पटहेरवा थानाक्षेत्र अन्तर्गत समउर बाजार, तरयासुजान थानान्तर्गत डिबनी बंजरवा व कोतवाली पडरौना अन्तर्गत जिला मुख्यालय रवीन्द्र नगर पर नये थाने खोलने का प्रस्ताव भेजा है। प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्तमान में इन जगहों पर सरकारी भूमि पर पुलिस चौकियां मौजूद हैं, अतः यहां जमीन की भी कोई समस्या नहीं है। उम्मीद जताई जा रही है कि सरकार की अगली कैबिनेट की मीटिंग में कुशीनगर से भेजे गए 3 नए थानों के प्रस्ताव को यूपी सरकार की मंजूरी मिल जाएगी। बताते चलें कि शासन द्वारा इस प्रस्ताव को मंजूरी मिलने के बाद जिले में थानों की संख्या 18 से बढ़कर 21 हो जाएगी।ज्ञात हो कि यूपी बिहार बार्डर पर स्थित पटहेरवा थाने के समउर बाजार में अभी पटहेरवा थाने की चौकी स्थित है तथा 172 राजस्व गांवों की सुरक्षा की जिम्मेदारी पटहेरवा थाने के ऊपर है। वहीं दूसरी तरफ डिबनी बंजरवा में तरयासुजान थाने की पुलिस चौकी है तथा तरयासुजान थाने के कंधों पर 111 राजस्व गांवों के सुरक्षा की जिम्मा है, विशेष बात ये है कि डिबनी बंजरवा चौकी भी यूपी बिहार बार्डर पर स्थित है और तरयासुजान थाने से इसकी दूरी अधिक है तथा पटहेरवा थाने के समउर बाजार पुलिस चौकी और तरयासुजान थाने की डिबनी बंजरवा चौकी अपराध के लिहाज से बेहद संवेदनशील हैं।


बताते चलें कि इसी महीने में कुछ दिनों पूर्व ही पटहेरवा थानाक्षेत्र के समउर बाजार में बिहार से आए बदमाशों ने बिहार के ही एक हत्यारोपी को दिनदहाड़े गोलियों से भून दिया तथा उस युवक को बचाने पहुंचे समउर निवासी एक बुजुर्ग भी बदमाशों की गोली का शिकार हो गया था। घटनास्थल पर पुलिस अधीक्षक के पँहुचने के बाद स्थानीय लोगों ने एसपी से समउर बाजार पुलिस चौकी और पटहेरवा थाने के पुलिस की घटनास्थल पर देर से पँहुचने की शिकायत भी की थी। वहीं तरयासुजान थाने की डिबनी बंजरवा चौकी क्षेत्र के रामपुर बंगरा में भी कुछ दिनों पूर्व ही डबल मर्डर हुआ था, जहां घटनास्थल पर पुलिस के पहुंचने में देर होने की बात सामने आने पर तत्कालीन पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार मिश्र ने एसओ तरयासुजान व कुछ पुलिसकर्मियों को निलंबित कर दिया था, हालांकि उस घटना के बाद से ही तत्कालीन एसपी कुशीनगर विनोद मिश्र पर भी गाज गिरी और उन्हें जिले से बाहर का रास्ता देखना पड़ा था। जानकार बताते हैं कि दोनों चौकियों को थाने के रूप में अपग्रेड किए जाने से अपराध पर अंकुश लगने की संभावना है।पटहेरवा व तरयासुजान की दो पुलिस चौकियों को थाने के रूप में अपग्रेड किये जाने के प्रस्ताव के बाद जिले में तीसरी चौकी जिसको थाना बनाने का प्रस्ताव भेजा गया है वह पडरौना कोतवाली अन्तर्गत जिला मुख्यालय स्थित रविंद्रनगर धुस पुलिस चौकी है। यहां भी सरकारी भूमि पर ही पुलिस चौकी संचालित होती है, पडरौना कोतवाली के अंतर्गत आने वाली इस चौकी पर जिला मुख्यालय समेत आस पास के दर्जनों गांव के लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी है। वहीं पडरौना कोतवाली पर पडरौना शहर की 50 हजार की आबादी के साथ ही 156 राजस्व गांवों के लोगों की सुरक्षा की भी अहम जिम्मेदारी है।


क्या कहते हैं एसएसपी कुशीनगर विनोद कुमार सिंह……..


जिले के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक विनोद कुमार सिंह का कहना है कि शासन के निर्देश पर समउर, डिबनी बंजरवा व रवीन्द्रनगर में नया थाना खोलने का प्रस्ताव भेजा गया है। नये थाने शुरू होने पर अपराध नियंत्रण व कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त बनाए रखने में काफी मदद मिलेगी। अभी इन स्थानों पर पटहेरवा, तरया सुजान व पडरौना कोतवाली की सरकारी भूमि पर पुलिस चौकियां हैं।