Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा प्रदेश की 10 महिलाओं से महासंवाद किया गया



 मेरठ। मेरठ जनपद से जनहित फाउंडेशन व चाइल्ड लाइन मेरठ की निर्देशिका,बाल कल्याण समिति की सदस्य अनीता राणा को संवाद के दौरान

मौका मिला। मेरठ जनपद से अनीता राणा द्वारा उनके द्वारा किए गए कार्यों के विषय में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया। अनीता राणा द्वारा कहा गया कि उनके निर्देशन में मेरठ जनपद में चाइल्ड लाइन द्वारा बाल संरक्षण के क्षेत्र में कार्य किया जा रहा है और अनेकों बालको का एवं उनके परिजनों से मिलाया गया और जिन बालको के विषय में जानकारी नहीं मिल पाती ।उनको आश्रय गृह में आश्रय दिलाया गया हैँ, अनीता राणा द्वारा कहा गया कि चाइल्डलाइन द्वारा समाज में व्याप्त बाल विवाह, बाल श्रम, भिक्षावृत्ति के प्रति समय-समय पर अन्य विभागों के साथ मिलकर जागरूकता कार्यक्रम किए जा रहे हैं l अनीता राणा द्वारा बालकों के आश्रय के संबंध में आने वाली परेशानियों के विषय में भी मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया और कहा गया कि मेरठ जनपद में छोटे बालकों के लिए कोई शिशु गृह नहीं है ।जिस कारण बालकों को आश्रय दिलाने के लिए बदायूं जाना पड़ रहा है ।मुख्यमंत्री द्वारा अनीता राणा द्वारा किया जा रहे कार्यों की सराहना की गई और महिलाओं के कल्याण के लिए राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे कार्यों के विषय में अवगत कराया गया। मुख्यमंत्री द्वारा बताया गया कि उनके द्वारा अयोध्या जनपद में निराश्रित महिलाओं के लिए शरणआलय बनाया जा रहा है। और लावारिस बालकों के लिए प्रत्येक जनपद में आश्रय गृह खोलने के लिए भी प्रयास जारी हैं। उनके द्वारा कहा गया कि प्रत्येक जनपद में अटल आवासीय विद्यालय भी खोले जाएंगे ।जिनमें बालकों के एक ही छत समुचित शिक्षा का प्रबंध किया जाएगा l मुख्यमंत्री द्वारा महासंवाद के दौरान उपस्थित सभी महिलाओं को उनके द्वारा किए गए कार्य के लिए बधाई दी एवं उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी l