Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

नहाने के लिए सिर्फ जरूरत भर के पानी का इस्‍तेमाल करें ना की ज्‍यादा पानी की खपत करें:उपेन्द्र शुक्ला



एक्शनएड के उपेन्द्र शुक्ला ने सरस्वती शिशु मंदिर जूनियर हाई स्कूल बजही निचलौल महराजगंज में बच्चो को जल संरक्षण के बारे में बताया कि धरती में पानी की कमी होती जा रही है। पानी हम सभी के जीवन के लिए कितना जरूरी है यह बात हमें पता है। हमारे देश में भी ऐसे कई क्षेत्र हैं जहां लोगों को पानी के लिए मीलों पैदल चलना पड़ता है, हमें उनके बारे में सोचना चाहिए। पानी के महत्‍व को समझते हुए हमें इसका संरक्षण करना चाहिए क्‍योंकि ये सिर्फ हमारे लिए नहीं बल्कि हमारे आने वाली पीढ़ी के लिए भी बेहद जरूरी है। अगर हम अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए कुछ करना चाहते हैं तो हमें आगे बढ़कर जल संरक्षण के लिए अपना योगदान देना चाहिए। हमें खुद पानी की बचत करना सीखना होगा। जल ही जीवन है के तर्ज पर बच्‍चों को पानी के महत्‍व के बारे में बताया और उन्‍हें पानी की बचत करने के तरीके सिखने चाहिए। पूरी दुनिया में बच्चे किसी भी तरह के संरक्षण के प्रयासों को लेकर जागरूक हैं, बस जरूरत है तो उन्‍हें सही दिशा देने की। पानी बचाने के लिए बच्चों को अनेक तरीके बताये,
       उन्होने बताया कि वो नहाने के लिए सिर्फ जरूरत भर के पानी का इस्‍तेमाल करें ना की ज्‍यादा पानी की खपत करें। अगर नहाते वक्‍त अपने कपड़े पानी से धो रहे हो तो उनको धूले हुए कपड़ों के पानी को फेकने से मना करें और इस पानी का इस्‍तेमाल बाद में बाथरूम में फ्लश करने जैसे कामों के लिए करे। पानी कम होने वाला है और वे इसका इस्तेमाल विवेकपूर्ण तरीके से करें। ब्रश करते समय नल को खुला ना रखें, हाथों को साफ करते समय या चेहरे को धोते समय नल के पानी का प्रवाह कम रखें। कभी भी नलों को खुला ना छोड़े और पानी का इस्‍तेमाल करने के बाद नल को कसकर बंद करें। जितना पानी पीना हो उतनी गिलास भरें। ज्‍यादा पानी लेकर आधा पीकर छोड़े नहीं। पानी स्टोर करना सिखाएं और जैसे कि सब्जियों के धुले हुए पानी को पौधों पर डाले। पेड़ों के महत्‍व के बारे में बताये कि उन्हें पेड़ लगाने के अभियान में भी शामिल हों। अगर कही पेड़ काटे जा रहे हो तो इसकी जानकारी बड़ों को दें।
स्कूल से घर लौटने पर आप अपनी पानी की बोतलों में जो भी थोड़ा सा पानी बचा है, उसे इस ड्रम में डालें। बारिश के पानी को बचाने के लिए अपने घर के छत पर वर्षा जल संचयन प्रणाली स्थापित करना जल संरक्षण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। बच्चों को बारिश के पानी का मूल्य सिखाने के लिए उन्हें बारिश होने पर बाल्टी बाहर रखें और इस पानी का उपयोग सफाई और धुलाई के लिए करें।