Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

महिलाओं एवं बच्चों का अवैध प्रवास, मानव व्यापार रोकने हेतु गठित जिला मानिटरिंग समिति की बैठक सम्पन्न




जनपद में  एकीकृत बाल संरक्षण योजनान्तर्गत जिला बाल संरक्षण समिति, जिला स्तरीय टास्क फोर्स के तत्वाधान में महिलाओं एवं बच्चों का अवैध प्रवास, मानव व्यापार रोकने हेतु गठित जिला मानिटरिंग समिति की बैठक कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।बैठक में किशोर न्याय (बालकों की देखरेख एवं संरक्षण) अधिनियम 2015 आदर्श 2016 के अलावा जिले में होने वाले बाल विवाह के रोकथाम के लिए जमीनी स्तर से प्रचार-प्रसार कर सूचना प्राप्त होने पर तत्काल रोकथाम की कार्यवाही, बालकों के पलायन रोकथाम हेतु पलायन पंजी का संधारण एवं त्वरित कार्यवाही हेतु जिला ईकाई को सूचना किये जाने, जिले में बाल देखरेख एवं संरक्षण के अंतर्गत चाईल्ड लाईन 1098 में आपात कालीन सेवा हेतु काॅल करने, बालकों द्वारा या बालकों के प्रति संभावित चिन्हांकित अपराध क्षेत्रों में पुलिस विभाग द्वारा पेट्रोलिंग कराये जाने, संबंधित विभिन्न विभागों के गठित दल के साथ छापामार कार्यवाही एवं रेस्क्यू किये गये बालकों को तत्काल पुर्नवास किये जाने के संबंध में कलेक्टर द्वारा निर्देशित किया गया। इसके साथ ही कलेक्टर ने बच्चों के साथ हो रहे अपराध की रोकथाम की कार्यवाही करने एवं बच्चों से संबंधित सभी संस्थाओं में 1098 चाईल्ड हेल्प लाईन नम्बर नोटिस बोर्ड पर लगाने को भी कहा।उक्त बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत डीएन कश्यप, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी टीआर कुंवर, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग वरूण नागेश, उप सचालक समाज कल्याण विभाग श्रीमती एल लकड़ा सहित पुलिस विभाग, शिक्षा विभाग, जनसम्पर्क विभाग के अधिकारी एवं चाईल्ड हेल्प लाईन एवं बच्चों के क्षेत्र में कार्य करने वाले सामाजिक कार्यकर्ता उपस्थित रहे।