Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

बाढ़ प्रभावित ईलाके के ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल की सुलभता हेतु जिला प्रशासन की पहल


 


जिले के 102 गांवों में 378 हैंडपंपों का किया गया क्लोरीनेशन


 


ग्रामीणों को पानी उबालकर पीने की दी जा रही है समझाईश


 


बीजापुर/23 अगस्त 2020-- जिले के बाढ़ प्रभावित ईलाकों में ग्रामीणों को शुद्ध पेयजल सुलभ कराये जाने हेतु जिला प्रशासन द्वारा पहल किया जा रहा है। इस दिशा में पेयजल स्रोतों यथा हैंडपंप और स्थल जल प्रदाय योजनाओं का क्लोरीनेशन किया जा रहा है। वहीं ग्रामीणों को पानी उबालकर पीने की समझाईश दी जा रही है। इस बारे में कार्यपालन अभियंता लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी बीजापुर श्री जगदीश कुमार ने बताया कि कलेक्टर श्री रितेश कुमार अग्रवाल के निर्देशानुसार जिले के सभी 4 विकासखण्डों के अंतर्गत बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के 102 गांवों में पेयजल के प्रभावित होने की सम्भावना को मद्देनजर सावधानी के तौर पर कुल 378 हैंडपंपों और स्थल जल प्रदाय योजनाओं का क्लोरीनेशन किया गया है। इस दौरान लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के मैदानी अमले उपयंत्री, हैंडपंप तकनीशियनों द्वारा शिक्षकों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, मितानिनों के सहयोग से ग्रामीणों को पानी उबालकर पीने की समझाईश दी गयी। अभी वर्तमान में उक्त मैदानी अमले द्वारा इस ओर लगातार ग्रामीणों को पानी उबालकर पीने, गर्म एवं ताजा भोजन का सेवन करने, स्वच्छता एवं साफ-सफाई रखने, मच्छरदानी का नियमित रूप से उपयोग करने, घर के आसपास पानी की निकासी करने, बीमार होने पर समीपस्थ स्वास्थ्य केन्द्र में उपचार करवाने इत्यादि सतर्कता सम्बन्धी परामर्श दी जा रही है। वहीं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के मैदानी अमले के द्वारा अन्य गांवों के हैंडपंपों के रखरखाव और संधारण का कार्य किया जा रहा है।