Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कुशीनगर :अधिकारी गण विकास कार्यों के प्रति गम्भीर और संवेदनशील हो कर कार्य करें :जिलाधिकारी


विकास कार्यों में गुणवत्ता व मानक की अनदेखी कत्तई बर्दास्त नही की जाएगी


कुशीनगर:  कार्यदायी संस्थाएं निर्माण कार्यों को गति दें यदि बजट की कमी हो तो शीघ्र शासन से डिमाण्ड करें तथा अधिकारी गण आमजन से सम्बंधित लाभ परक योजनाओं का क्रियान्वयन शत प्रतिशत कराना सुनिश्चित करें जिलाधिकारी भूपेंद्र एस चौधरी ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में शासन के प्राथमिक विकास कार्यो की वर्ष 2020-21 माह अगस्त 2020 तक की प्रगति पर मासिक समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करते हुए उक्त निर्देश दिए जिलाधिकारी ने विकास कार्याे की समीक्षा बैठक करते हुए सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि विकास कार्याे की प्रगति मे किसी भी प्रकार कीं शिथिलता एंव लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी और न ही विकास कार्यो में गुणवत्ता और मानक के साथ अनदेखी नही की जाएगी उन्होने कहा कि शासन विकास के प्रति गम्भीर और संवेदनशील है। तथा विकास शासन की सर्वाेच्च प्राथमिकताओं में से है।


और प्रदेश को विकसित प्रदेश की श्रेणी में लाने के लिए कटिबद्व है। अतः कोई भी अधिकारी विभागीय लक्ष्य के सापेक्ष लापरवाही न करें और सभी कार्याे को पूर्ण गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय सीमा में पूरा करना सुनिश्चित करें उन्होने समस्त विभागीय अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जिन विभागों पर विधुत विभाग के बिलों का बकाया है। वे जल्द से जल्द विधुत विभाग के बिलों का भुगतान करना सुनिश्चित करे उन्होने कहा कि जिन विभागों में भवनों का निर्माण कार्य चल रहा है। उनकी पूरी गुणवत्ता जाॅच ले और कार्यदायी संस्था को समय-समय पर निर्देश देते रहे ताकि कार्य जल्द से जल्द पूरा हो सके जिलाधिकारी द्वारा बेसिक शिक्षा लोनिवि में 50 लाख से अधिक लागत की सड़क निर्माण में पूर्ण परियोजनाओं की प्रगति सहित सेतु निर्माण के प्रगति की जानकारी ली गई जल निगम विभाग की पाईप पेयजल योजना की प्रगति, छात्रवृत्ति, कृषि विभाग द्वारा अनुदानित कृषि यंत्रों किसान सम्मान निधि की प्रगति तथा फीडिंग सम्बन्धी कार्यों की विधिवत समीक्षा की गई इसी प्रकार गन्ना, प्रधानमंत्री/मुख्यमंत्री आवास सहित अन्य विभागों की कार्याे की बिन्दुवार समीक्षा करते हुए सभी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये गये कि जिले को प्रदेश में अग्रणी बनाए रखने के लिए अपेक्षित प्रयास करें और सभी योजनाओं एंव कार्यक्रमों को निष्ठा और जिम्मेदारी के साथ क्रियान्वित करें उन्होने समस्त खण्ड विकास अधिकारी और समस्त अधिशासी अधिकारी नगर पालिका/नगर पंचायतों को निर्देश दिये कि अपने छेत्र के गौशाला का निगरानी नियमित करते रहें कही किसी प्रकार की अव्यवस्था पाई जाती है। तो तत्काल सूचित करें और जिन गौशालाओं में पशुओं के चारे की उपलब्धता नही है। वे समय से चारे की उपलब्धता पूरी करना सुनिश्चित करे उन्होने कहा कि उ0प्र0 शासन गौवंश के लिए गंभीर है। और इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाशत नही की जायेगी इस अवसर मुख्य विकास अधिकारी अन्नपूर्णा गर्ग, परियोजना निदेशक संजय पाण्डेय, जिला विकास अधिकारी शेषनाथ चौहान, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी विमलेश कुमार,जिला विद्द्यालय निरीक्षक वेदप्रकाश मिश्र, उप निदेशक कृषि चौधरी अरुण कुमार, खादी ग्रामोद्दोग अधिकारी ए0के0 पाल, सहित अन्य जनपद स्तरीय अधिकारी व खण्ड विकास अधिकारी / अधिशाषी अधिकारी नगरपालिका/नगर पंचायत आदि उपस्थित रहे।


Post a Comment

0 Comments