Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

हिंदू राष्ट्र के लिए परमहंस के आमरण अनशन को प्रशासन ने तुड़वाया, कराया जिला अस्पताल में भर्ती, परमहंस ने पकड़ी जिद,अस्पताल में फिर शुरू किया अनशन


अयोध्या। भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करने और देश में रह रहे मुस्लिमों की नागरिकता खत्म करने की मांग को लेकर आमरण अनशन कर रहे परमहंस दास का अनशन मंगलवार की रात प्रशासन ने तुड़वा दिया। प्रशासन ने उनको जबरिया जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया। हालांकि अपनी जिद पर अड़े परमहंस दास में जिला अस्पताल में फिर से अनशन शुरू कर दिया है।


राम नगरी स्थित तपस्वी छावनी के आचार्य परमहंस दास ने भारत सरकार से देश को हिंदू राष्ट्र घोषित किए जाने और देश में रह रहे मुस्लिमों की नागरिकता खत्म किए जाने की मांग की थी। ऐसा न होने पर उन्होंने आमरण अनशन की चेतावनी दी थी। मांग न पूरी होने पर 12 अक्टूबर को श्री दास ने तपस्वी छावनी में ही अन्न जल त्याग कर आमरण अनशन शुरू कर दिया था। अनशन कर रहे श्री दास पर प्रशासन की नजर थी। स्वास्थ्य विभाग के डॉक्टर रोजाना परीक्षण कर रहे थे। 9 दिन चले आमरण अनशन में श्री दास का वजन 9 किलो कम हो गया। चिकित्सकों की ओर से खराब सेहत का हवाला देते हुए रिपोर्ट दी गई तो खुफिया कर्मियों ने प्रशासन को वस्तुस्थिति से अवगत कराया। जीवन रक्षा के लिए जिला प्रशासन ने मंगलवार की रात एंबुलेंस की मदद से श्री दास को जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया। हालांकि बुधवार को उन्होंने जिला अस्पताल में ही फिर से आमरण अनशन शुरू कर दिया।


श्री दास का कहना है कि वह अपनी मांग पर कायम है। जब तक सरकार उनकी मांग को पूरा नहीं करती, तब तक आमरण अनशन जारी रहेगा। जिला अस्पताल प्रशासन ने बताया कि भर्ती कराए गए श्री दास को गुलकोज व अन्य उपचार दिया गया है। अयोध्या के रेजीडेंट मजिस्ट्रेट का कहना है कि गिरती सेहत को लेकर प्रशासन ने परमहंस दास को अस्पताल में भर्ती कराया है।