Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

दस केंद्रों पर दो - दो सत्र में बनाकर किया गया 1554स्वास्थ्य कर्मियों का कोविड टीकाकरण



 दस केंद्रों पर दो - दो सत्र में बनाकर किया गया 1554स्वास्थ्य कर्मियों का कोविड टीकाकरण 


जिला प्रतिरक्षण अधिकारी ने सिढ़पुरा के स्वास्थ्य केंद्र पर कराया टीकाकरण 


सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अशोकनगर, विरला अस्पताल, मिशन अस्पताल, कलावती नर्सिंग हॉस्पिटल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोरों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहावर, गंजडुंवारा, अमापुर, पटियाली, सिढ़पुरा में हुआ टीकाकरण

कासगंज । जनपद में गुरुवार को 10 स्वास्थ्य केंद्रों पर 20 सत्रों में कोविड-19 टीकाकरण संपन्न हुआ । सभी बूथों पर सुबह नौ 9 बजे से शाम पांच बजे तक जिले के1554 स्वास्थ्यकर्मियों को कोविड-19 के टीके से प्रतिरक्षित किया गया। इन्हें कोविड-19 टीका की अगली डोज के लिए 28 दिन बाद पर दी जाएगी । इसके लिए उनके मोबाइल पर मैसेज भेजा जाएगा । 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अनिल कुमार ने बताया कि जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के कुल दस केंद्रों मे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अशोकनगर, विरला अस्पताल, मिशन अस्पताल, कलावती नर्सिंग हॉस्पिटल, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सोरों, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सहावर, गंजडुंवारा, अमापुर, पटियाली, सिढ़पुरा दो-दो सत्र बनाकर1554 स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण किया गया। 

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अनिल कुमार ने बताया कि जनपद में दस केंद्रों पर कोविड टीकाकरण किया गया। सीएमओ ने बताया कि पहली डोज के बाद दूसरी डोज 28वें दिन लगेगी। टीका लगने के बाद आधे घंटे तक प्रतिरक्षा कमरे में विशेषज्ञ की निगरानी में रखा गया । प्रतिरक्षित व्यक्ति को यदि बेचैनी या किसी भी तरह की समस्या होती है तो निकटतम स्वास्थ्य अधिकारियों, एएनएम और आशा को इसकी सूचना दें। इसके लिए एंबुलेंस सेवा 108 भी उपलब्ध थी। प्रतिरक्षित व्यक्ति भी कोरोना अनुरूप व्यवहारों जैसे मास्क पहनना, हाथ की सफाई और 6 फीट की शारीरिक दूरी बनाए रखने का पालन करें।

अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ.अविनाश कुमार ने बताया कि कोई व्यक्ति बिना पंजीकरण के कोरोना वैक्सीन नहीं प्राप्त कर सकता है। कोरोना वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण के बाद ही सत्र स्थल और समय की जानकारी दी जाएगी। फोटो आईडी पंजीकरण और सत्यापन दोनों के लिए जरूरी है। ऑनलाइन पंजीकरण के बाद लाभार्थी को वैक्सीनेशन की नियत तिथि, स्थान और समय के बारे में मोबाइल पर एसएमएएस प्राप्त हुआ। कोरोना वैक्सीन की उचित खुराक मिलने पर लाभार्थी को उनके मोबाइल नंबर पर एक क्यूआर कोड आधारित प्रमाण पत्र भी भेजा जायेगा । 10मिनट पहले लाभार्थियों का तापमान भी चेक किया गया !

4अनुपस्थित की बनेगी सूची 

प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ अंजुश सिंह ने बताया कि 16 जनवरी को शुरू हुए कोविड-19 टीकाकरण अभियान के दिन कई ऐसे लोग भी रहे, जिनका नाम कोविन पोर्टल पर पंजीकृत था, लेकिन वह टीकाकरण के समय नहीं आए। अनुपस्थित लोगों की अब एक अलग सूची तैयार होगी। इन लोगों को टीकाकरण के लिए अलग से समय दिया जाएगा। कोविड-19 टीकाकरण के लिए आने वाले लोगों कि आईडी पुलिस कर्मियों द्वारा चेक चैक की गई और सूची से मिलाकर सभी टीकाकरण के लिए भेजा गया।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डॉ अंजुश सिंह ने सिढ़पुरा मे कोरोना का टीका लगाया उन्होंने बताया उन्हें बिल्कुल डर नहीं लगा और टीकाकरण के बाद अच्छा लग रहा है उन्होंने सभी से आग्रह किया है की सभी टीकाकरण ज़रूर कराएं देश को कोरोना मुक्त बनाए !यूनिसेफ बीएमसी साहवर लईक अहमद ने बताया कि उनको 10 बजे कोविड-19 टीका लगाया गया। उन्होंने कहा कि टीका लगवाकर बहुत अच्छा लग रहा है और उन्होंने सब लोगों से आग्रह किया है कि टीका ज़रूर लगवाएं। वैक्सीन सुरक्षित है और टीका लगवाने से पहले उनको कोई डर नहीं था। उन्होंने कहा कि टीका लगने के बाद अच्छा महसूस कर रहे हैं। टीका लगे हुए काफ़ी समय बीत चुका है अभी तक उन्हें कोई परेशानी नहीं हुई है | अपनी ड्यूटी कर रहे है। उन्होंने लोगों से कहा कि सारे लोग अपने टीका लगवाएं, डरने की जरूरत नहीं है। वैक्सीन सुरक्षित है। खुद को सुरक्षित रखें अपने परिवार को सुरक्षित रखें हम सुरक्षित रहेंगे तभी तो हमारा देश सुरक्षित रहेगा। विरला हॉस्पिटल में मुबारिकपुर माफ़ी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता कत्री शाहजहाँ बेगम ने बताया कि आज टीका लगने से पहले थोड़ा डर था, लेकिन टीका लगने के बाद बहुत अच्छा लग रहा है और उन्होंने सबसे आग्रह किया है कि टीका जरूर लगवाएं डरें नहीं।आशा राजकुमारी ने बताया कि की टीका लगने से पहले थोड़ा डर लगा था लेकिन उनको कोई परेशानी नहीं है | बहुत अच्छा लग रहा है। कार्यक्रम के दौरान जिला ,सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अशोकनगर के नोडल अधिकारी बी के राजपूत व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अधीक्षक डॉ आकाश सिंह , यूनीसेफ बीएमसी मोहम्मद रिजवान व डब्ल्यूएचओ शकील हुसैन व और स्वास्थ्य विभाग का स्टॉफ के लोग मौजूद रहे।