Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कलयुगी पिता ने पुत्री को बनाया हवस का शिकार, बेटे के खिलाफ षड्यंत्र रच कर बहू के साथ भी बनाना चाहता था....?




नसीराबाद/रायबरेली: एक षड्यंत्र कारी कलयुगी पिता का ऐसा कारनामा प्रकाश में आया है कि उसके कारनामे को सुनने के बाद न सिर्फ ग्रामीणों के होश उड़ गए बल्कि पुलिस भी चकरा गई। आरोप के मुताबिक पहले तो पिता अपनी पुत्री को हवस का शिकार बनाता रहा और जब पोल पट्टी खुली तो अपने सगे बेटे के खिलाफ षड्यंत्र रच कर बेटी के साथ दुराचार करने का आरोप लगाने लगा। पुलिस को दी गई बेटे के खिलाफ तहरीर पर पुलिस को शक हुआ और जब उसने गहराई से जांच पड़ताल किया तो मामला सच निकल कर सामने आया। नाबालिग पीड़िता के मुताबिक पिता की करतूत पर विरोध करने पर उसके साथ मारपीट करता था। फिलहाल पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर दुष्कर्मी आरोपित पिता के खिलाफ संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर पीड़िता पुत्री को महिला आरक्षी के साथ मेडिकल परीक्षण के लिए भेज दिया है। मामला नसीराबाद थाना क्षेत्र के एक गांव का है जहां पहले तो एक पिता ने अपने सगे बेटे पर बेटी के साथ दुष्कर्म करने का आरोप लगातेेे हुए नसीराबाद पुलिस की चौखट पर पहुंचा। लेकिन जब थानाध्यक्ष श्री राम पांडे नेेे सच्चाई उगलवाना शुरू

किया तो गोल मटोल जवाब से पुलिस को शक हुआ और पुलिस ने घर के अन्य परिजनों को बुला कर गहनता से जांच पड़ताल शुरू की तो कलयुगी पिता टूट गया और धीरे से थाने से गायब हो गया। पिता के गायब होते ही पुलिस का शक और यकीन में बदलता चला गया और नाबालिग किशोरी से कड़ाई से पूछताछ में सच बाहर आया तो किशोरी ने बताया कि पिता के द्वारा दी गई तहरीर झूठी है बताया कि मेरे पिता ही मुझसे कई वर्षों से जबरन दुष्कर्म करते आ रहे हैं किसी से कुछ बताने पर जान से मारने की धमकी देते हैं और मारपीट भी करते हैं मेरे भाई को फंसा कर जेल भिजवा कर भाभी को भी अपने वस में करना चाहते हैं। पीड़िता की जुबान से पुलिस यह सच्चाई सुनकर दंग रह गई और झूठ को पीछे छोड़ सच्चाई की तहरीर लेते हुए कार्रवाई में लग गई। और षड्यंत्रकारी व दुष्कर्मी पिता के खिलाफ पीड़िता के 

भाई की तहरीर पर पुलिस ने अपराध संख्या 75/21 धारा 376,,506 आईपीसी ,व 5/6पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज कर पिता को गिरफ्तार कर लिया। थानाध्यक्ष श्री राम पांडे ने बताया कि एक नाबालिक लड़की के साथ पिता द्वारा दुष्कर्म करने के आरोप में मुकदमा पंजीकृत कर आरोपित पिता को जेल भेजा गया।