Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

लखनऊ और नोएडा के पहले पुलिस कमिश्नर के रूप में संभाला अपना-अपना कार्यभार 


वरिष्ठ आईपीएस अधिकारी सुजीत पांडेय और आलोक सिंह ने बुधवार को क्रमाश: लखनऊ और नोएडा के पहले पुलिस कमिश्नर के रूप में अपना कार्यभार संभाल लिया। सोमवार को उत्तर प्रदेश सरकार की कैबिनेट बैठक में लखनऊ और नोएडा में पुलिस कमिश्नर व्यवस्था को मंजूरी दी गई थी।कार्यभार ग्रहण करने के बाद सुजीत पांडेय ने पत्रकारों से कहा, ''हमारी पूरी कोशिश होगी कि मुख्यमंत्री और उच्चाधिकारियों ने हम पर जो विश्वास जताया है हम उस पर खरे उतरें। पिछले कुछ वर्षों में कानून-व्यवस्था में काफी सुधार हुआ है और हम इसमें और अधिक सुधार लाना चाहेंगे। हम स्मार्ट पुलिसिंग करेंगे और जनता के प्रति ज्यादा संवेदनशील होकर काम करेंगे। हमारे दल 24 घंटे काम करेंगे और एक अधिकारी दिन-रात यहां मौजूद रहेगा, जनता की समस्याओं को सुनेगा और काम करेगा।'' उन्होंने कहा कि आज लखनऊ में सभी पुलिस अधिकारी कार्यभार ग्रहण करेंगे और अभी से काम करना शुरू कर देंगे।


लखनऊ में 13 IPS समेत 56 अफसर संभालेंगे कानून व्यवस्था की कमान


पुलिस कमिश्नर प्रणाली लागू होने के बाद बुधवार को सुजीत पांडेय ने पुलिस कमिश्नर के रूप में अपना कार्यभार संभाला। अब लखनऊ नगर में नई व्यवस्था के तहत इंस्पेक्टर से ऊपर के 56 अधिकारी (इनमें 13 आईपीएस) तैनात होंगे। इनके अधीन लखनऊ के 40 थाने होंगे। इनमें सुशांत गोल्फ सिटी और गोमतीनगर विस्तर दो नए थाने शामिल हैं।


Post a Comment

0 Comments