Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के दिन-प्रतिदिन बढ़ने से यहां की जनता जिस प्रकार से काफी चिन्तित व त्रस्त है:मायावती 


उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं. कोरोना वायरस को लेकर योगी सरकार विपक्ष के निशाने पर है. उधर, बसपा प्रमुख मायावती ने भी कोरोना को लेकर सरकार पर निशाना साधा है. मायावती ने शनिवार को एक ट्वीट कर योगी सरकार को कई सुझाव भी दिए हैं. मायावती ने ट्वीट कर कहा, "देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में कोरोना महामारी के दिन-प्रतिदिन बढ़ने से यहां की जनता जिस प्रकार से काफी चिन्तित व त्रस्त है, उसके मद्देनजर कोरोना टेस्टिंग, अस्पतालों में सुविधा व कोविड केन्द्रों की साफ-सफाई आदि पर सरकार तुरन्त उचित ध्यान दे, बीएसपी की यह मांग है."


 


प्रियंका गांधी ने भी दी सलाह


 


इसके अलावा कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर कोरोना वायरस के संकट से निपटने के लिए कई कदम सुझाए और यह भी कहा कि राज्य में कोविड -19 की स्थिति गंभीर है , ऐसे में प्रचार से लड़ाई नहीं लड़ी जा सकेगी , बल्कि प्रभावी कदम उठाने होंगे.


 


पत्र में प्रियंका ने कहा, "उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना के 2500 मामले आए और लगभग सभी महानगरों में कोरोना मामलों की बाढ़ सी आई है. अब तो गांव-देहात भी इससे अछूते नहीं है. साफ प्रतीत होता है कि आपकी सरकार ने ‘ नो टेस्ट = नो कोरोना ’ को मंत्र मानकर कम संख्या में जांच की नीति अपना रखी है. अब एकदम से कोरोना मामलों के विस्फोट की स्थिति है. जब तक पारदर्शी तरीके से जांच की संख्या नहीं बढ़ाई जाएगी, तब तक लड़ाई अधूरी रहेगी व स्थिति और भी भयावह हो सकती है."


 


 


Post a Comment

0 Comments