Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

ओवरलोड वाहनों का संचालन बेरोकटोक जारी, विभाग बना मूकदर्शक, रहवासी फाक रहे हैं धूल जीना हुआ दुश्वार


 


रघुराज सिंह की रिपोर्ट-


बीजपुर/सोनभद्र : यूपी की गाड़ियां एमपी से बालू परिवहन करने वाली गाड़ियों का रास्ता थाना क्षेत्र के डोडहर गाँव के रास्ते बालू और राख के ओवरलोड ट्रक संचालन में प्रशासन पास हो गया तो ग्रामीण फेल हो गए। बताते चलें कि भारी वाहनों के आवागमन से सिरसोती, अधौरा , झंडीपहाड़ी, खैरी, मिटीहिनी, कॉन्ट्रेक्टर कालोनी ,डोडहर और बीजपुर मोड़ सहित रेनुकूट बीजपुर मार्ग की सड़क गढ्ढे में तब्दील हो चुकी है तो बैढन से रेनुकूट तक सड़क में बने दर्जनों पुल जर्जर हो गए है। प्रति दिन ओवरलोड सैकड़ो ट्रक तथा भारी वाहनों के आवागमन को बन्द कराने के लिए जिला पंचायत सदस्य केदार यादव और ग्राम प्रधान डोडहर भागीरथी ने सांसद, विधायक, जिलाधिकारी सहित पुलिस प्रशासन को अनेको पत्र लिख कर ग्रामीण मार्ग से भारी वाहनों के आवागमन को बन्द कराने की माँग की लेकिन सब बेकार सावित हुआ।


बताया जाता है कि प्रतिनिधि द्वय के आग्रह पर तत्कालीन उप जिलाधिकारी दुद्धि प्रकाशचंद ने पिछले सप्ताह मौके पर पहुँच कर खस्ताहाल ग्रामीण सड़क का मौका मुआयना कर पुलिस को निर्देशित किया था कि किसी भी सूरत में ओवरलोड ट्रक संचालन इस मार्ग से नहीं होना चाहिए। बड़े वाहनों को बन्द कराने के लिए ग्रामीणों ने गत दिनों दो दिन तक सड़क में धरना प्रदर्शन कर चक्काजाम भी किया जिसके कारण सैकड़ो ट्रकें जहाँ तहाँ खड़ी रही लेकिन जैसे ही उप जिलाधिकारी के स्थानांतरण की खबर आई पुनः परियोजना प्रबंधन और पुलिस ने पूर्व की भांति ओवरलोड ट्रक संचालन को शुरू करा दिया जिससे ग्रामीणों में अब भारी आक्रोश ब्याप्त है। रात दिन सैकड़ो ट्रकों के संचालन से जगह जगह गढ्ढे में तब्दील हो चुकी सड़क में राहगीरों सहित दुपहिया वाहन चालक दुर्घटना ग्रस्त हो रहे हैं वहीं बेतरतीब ट्रक संचालन से आये दिन दुर्घटना होने से ग्रामीणों में भय ब्याप्त है। इसबाबत प्रभारी निरीक्षक श्यामबहादुर यादव से जब जानकारी माँगी गयी तो उन्हों ने बताया कि राखड़ की ट्रकें बन्द हैं बालू की गाड़ियों का अभी जानकारी नही है। अगर ओवरलोड गाड़ियां चलेगी तो करवाई की जाएगी।


Post a Comment

0 Comments