Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच हजार पांच सौ पचपन करोड़ की 23ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं का किया शिलान्यास


सोनभद्र । रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पांच हजार पांच सौ पचपन करोड़ की 23ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं का शिलान्यास किया। इसमें 14परियोजनाएं सोनभद्र की व नौ परियोजनाएं मिर्जापुर जनपद की हैं । 


इसके जरिए हर घर को नल योजना से जोड़कर सभी घर को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराया जाएगा । शिलान्यास कार्यक्रम को वर्चुअल सभा के माध्यम से संबोधित करते हुए प्रधान मंत्री ने कहा की विंध्य क्षेत्र के 40 लाख आबादी इस परियोजना से लाभान्वित होगी आजादी के बाद पहली बार देश में हर घर को जल से जोड़ने की इतनी बड़ी परियोजना का शुभारंभ विंध्य क्षेत्र की धरती से हो रहा है यह यहां के लोगों के लिए और देश के लिए सौभाग्य की बात ह विंध्य क्षेत्र वह सोनभद्र के पुरातन व नवीन महत्व को भी प्रधानमंत्री ने लोगों को संबोधित करते हुए रेखांकित रेखांकित किया उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में गंगा सोन बेलन कर्मनाशा जैसी नदियां बहती हैं लेकिन सर्वाधिक सूखा और पेयजल की समस्या इसी क्षेत्र के लोगों को झेलना पड़ता है


उन्होंने कहा कि 5555 करोड़ कि इस परियोजना से सोनभद्र और मिर्जापुर के बहुत बड़े भूभाग को शुद्ध पेयजल मिलेगा और इससे तमाम बीमारियों पर भी अंकुश लगेगा पशुओं को भी लाभ होगा उन्होंने अपने अनुभव साझा करते हुए कहा कि शुद्ध पेयजल के लिए सोनेलाल पटेल जब भी मिलते थे तो चिंता जाहिर करते थे आज वह जहां भी होंगे उनकी आत्मा परियोजना को फलीभूत होते देखकर निश्चित ही प्रसन्न होगी प्रधानमंत्री ने केंद्र सरकार द्वारा संचालित तमाम जनकल्याणकारी परियोजनाओं के बारे में भी सभा के माध्यम से लोगों को जानकारी दी उन्होंने कहा कि सोनभद्र के लोगों को निश्चय ही इस परियोजना से बहुत बड़ा लाख मिलेगा उन्होंने वर्चुअल गोष्ठी के माध्यम से कुछ लोगों से वार्ता भी की इस मौके पर उन्होंने प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि इस करो ना कॉल मैं भी उत्तर प्रदेश निरंतर प्रगति के पथ पर अग्रसर है सबका साथ सबका विकास सबका विश्वास के फार्मूले पर सरकार काम करते हुए लगातार आगे बढ़ रही है


गोष्ठी को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सोनभद्र का यह इलाका प्राकृतिक संसाधनों से पूरी तरह समृद्ध है यहां पर्यटन की असीम संभावनाएं हैं जिस पर प्रदेश सरकार तेजी से काम कर रही है आने वाले दिनों में सोनभद्र उत्तर प्रदेश के लिए मॉडल जनपद के रूप में खड़ा होगा स्थानीय स्तर पर पर्यटन व अन्य रोजगार के क्षेत्र से यहां की बाजू आएंगे और आर्थिक प्रगति में सोनभद्र मील का पत्थर साबित होगा उन्होंने कहा कि आजादी के 72 वर्षों के बाद भी सोनभद्र और मिर्जापुर के लोग शुद्ध पेयजल के लिए भटक रहे हैं जल का विशाल भंडार होने के बाद भी यहां के लोगों को शुद्ध पेयजल नहीं मिल पा रहा है इसे ध्यान में रखते हुए माननीय प्रधानमंत्री जी ने इतनी बड़ी परियोजना का शुभारंभ सोनभद्र से करने का निर्णय लिया यह उत्तर प्रदेश के लिए ही नहीं सब के लिए गौरव की बात है सोनभद्र की जनता का आभार व्यक्त करते हुए श्री योगी ने कहा कि यहां की जनता जिस तरह सरकार के विश्वास पर कायम है उसी तरह सरकार भी भरोसा दिलाती है कि उनके विश्वास को टूटने नहीं दिया जाएगा और हर घर को शुद्ध पेयजल हर गरीब आदिवासी को मकान सबके लिए स्वास्थ्य सबके लिए शिक्षा इसका पूरा ध्यान रखा जाएगा इस मौके पर केंद्रीय जल संसाधन मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत उत्तर प्रदेश सरकार में जल शक्ति मंत्री डॉ महेंद्र सिंह बेसिक शिक्षा मंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ सतीश चंद्र जी सांसद पकौड़ी लाल कोल सदर विधायक भूपेश चौबे ने भी लोगों को संबोधित किया