Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

सपना बड़ा देखो फिर बड़ा संघर्ष भी करो - अखिलेश यादव - राष्ट्रीय अध्यक्ष, सपा


इटावा । में इटावा को बिल्कुल भी भूला नही हूँ यह बात भीड़ में बैठे अपने गुरु को प्रणाम करते हुये आज सिविल लाइन स्थित आवास पर आयोजित एक प्रेस वार्ता में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने ठेठ देशी अंदाज में वहाँ बैठे कार्यकर्ताओ से कही उन्होंने कहा कि, जब जब हमारी समाजवादी पार्टी की सरकार उत्तर प्रदेश में बनी है तब तब इटावा का बड़ा विकास हुआ है। इटावा का विकास बस विरोधी पार्टी ने ही रोका हुआ है। इटावा की लायन सफारी एक विश्वस्तरीय पर्यटक स्थल भी है जब इटावा सफारी अपने स्वयं के शेर देने लगेगी तब यह विश्व प्रिसिद्ध भी होगी। यदि विकास को देखें तो इटावा मैनपुरी मार्ग जिन्हें भी याद हो वे खुद जाकर देख लें यह सड़क मार्ग समजवादियो की ही देन है। इसके अलावा इटावा जनपद को मदर डेरी, सैंफई मेडिकल यूनिवर्सिटी, पुलिस सहायता की आधुनिक गाड़ियां, चौड़ी सड़कें, पुलिस आवास, नव निर्मित यमुना पुल, भरथना को जाम मुक्त करना, कई विद्युत फीडर सब स्टेशन, गरीबो को समाजवादी आवास व एलईडी उलब्ध कराना, राष्ट्रीय खेलों को बढ़ावा देना ,खिलाड़ियों की प्रतिभाओं को यश भारती सम्मान देना, विश्वस्तरीय हॉकी सैंफई स्टेडियम, विकास भवन मीटिंग हॉल, जिला अस्पताल बैड कैपिसिटी एक्टेंशन सहित जनपद को आधुनिक जिला जेल भी देना समाजवादियो का ही काम है । जो अभी भी अधूरी ही है। उन्होंने कहा कि , में अभी जिस रास्ते से चलकर आया हूँ वहाँ विकास भवन में द्वार पर ब्लैक ग्रेनाइट का पथ्थर लगाना ही मात्र इटावा का विकास है । सन 1857 में इटावा के लोगो ने भी ऐतिहासिक लड़ाई लड़ी थी । सरकार आने पर हम वर्तमान जिलाधिकारी आवास को भविष्य में 1857 की लड़ाई की याद में म्यूजियम में अवश्य बदलेंगे। विकास के मुद्दे पर बोलते हुये उन्होने कहा कि, वर्तमान सरकार में बस भ्रस्टाचार व अन्याय का ही विकास हुआ है। लोगो पर झूठे मुकद्दमे लगाना अपमान करना, यह घटनाये बढ़ी है । लोग आहत है। हमारी सरकार में बहनो को कन्या विद्याधन व लेपटॉप मिलता था अब वह योजनाये कहाँ है कुछ नही पता । इस सरकार में कई जिलों को ओडीएफ के प्रमाणपत्र भी मिले लेकिन असल मे शौंचालय वहाँ से गायब ही मिले।


सरकार में किसानों को धान का उचित मूल्य भी नही मिल रहा । में पूछना चाहता हूँ सरकार से की आज किन किन किसानों की आय दोगुनी हुई है यह भी भाजपा के लोग बतायें।


गठबंधन पर उन्होंने कहा कि, हम भविष्य में छोटे दलों से बात करेंगे व उन्हें पार्टी में शामिल करेंगे लेकिन बड़े दलों से कोई बात नही होगी। हमने प्रसपा के लिये अपनी जसवन्तनगर सीट भी छोड़ी है। भविष्य में वे पार्टी के सहयोगी दल में शामिल हुये तो उन्हें मंत्री पद भी देंगे ।


हमारी सरकार आई तो 2022 में यूपी में खुशहाली भी अवश्य आयेगी ।


किसानों की भलाई भी 2022 में ही होगी । किसानों के लिये बने कानून किसानों को ही बर्बाद कर रहे है ये कानून किसानों के डेथ वारंट है। किसान मंडियां अधूरी पड़ी है। बीजेपी मात्र एक मिस्ड कॉल पार्टी ही है। में यह जानना चाहता हूँ कि, ऐसा कौन सा नम्बर है कि जिससे हमारा किसान उस पर मिस कॉल करे जिससे की उसकी आय दोगुनी हो जाये व बेरोजगारों को रोजगार मिल जाये । विकास के मुद्दे को लेकर उन्होंने कहा कि, पूर्व प्रधानमंत्री स्व0 अटल बिहारी वाजपेयी जी जो कि बटेश्वर के रहने वाले थे व बीजेपी के एक बेहद सम्मानित व बड़े कद के नेता भी थे उनके क्षेत्र बटेश्वर को भाजपा सरकार ने कुछ भी नही दिया। चुटकी लेते हुये उन्होंने भाजपा के एक मंत्री के लिये भी कहा कि, आजकल वे बेहद ही दुखी है। उनकी पार्टी में बिल्कुल चल ही नही रही है उन्हें अपना टेंडर भी केंसिल करना पड़ रहा है। ट्वीट कर रहे है। उनका सपना तो बहुत बड़ा था लेकिन अब आजकल उन्हें नींद ही नही आ रही है । क्यों कि सरकार के पास अब समय नही बचा है।


अंत मे उन्होंने कहा कि यदि जनता हमे मौका देगी तो प्रदेश के विकास के साथ ही इटावा के विकास को भी हम ऐतिहासिक अवश्य बनाएंगे ।