Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

तहसीलों के मंदिरों में वाल्मीकि रामायण का पाठ आरम्भ हुआ, शासन के निर्देश पर महर्षि वाल्मीकि जयंती पर प्रशासन ने कराया आयोजन


आज़मगढ़: शासन के निर्देश पर प्रत्येक तहसीलों पर निकटवर्ती मंदिर/ धार्मिक स्थल पर महर्षि वाल्मीकि की प्रतिमा पर माल्यार्पण के साथ वाल्मीकि रामायण का पाठ आरंभ किया गया । इसी क्रम में तहसील बुढ़नपुर स्थित नगर पंचायत स्थित मंदिर पर उप जिलाधिकारी बुढ़नपुर दिनेश मिश्रा, पत्नी नमिता मिश्रा, नायब तहसीलदार धर्मेंद्र सिंह के नेतृत्व में प्रथम देव स्थान से पधारे संस्कृत के ज्ञाता बच्चों द्वारा पूरे विधि विधान से महर्षि वाल्मीकि रामायण के सुंदर कांड का शुभारंभ किया गया। मंत्रोचार के साथ मंदिर प्रांगण में उप जिलाधिकारी द्वारा पूजा पाठ कर बाल्मीकि रामायण का सुंदरकांड आरंभ किया गया । महर्षि बाल्मीकि द्वारा रचित रामायण में सभी श्लोक संस्कृत में हैं,माना जाता है कि त्रेता युग की लिखी महर्षि वाल्मीकि रामायण रामचंद्र जी के जन्मकाल की है।


इस अवसर पर उप जिलाधिकारी बुढ़नपुर दिनेश मिश्रा ने बताया कि महर्षि वाल्मीकि जयंती के अवसर पर बाल्मीकि रामायण का सुंदरकांड का पाठ तहसील बुढ़नपुर में स्थित नगर पंचायत प्रांगण में मंदिर में कराया जा रहा है। जिसमें आश्रम से पधारे संस्कृत के छात्रों को बुलाया गया है । साथ ही स्थानीय ग्रामवासी एवं सब मिलकर महर्षि वाल्मीकि की जयंती के अवसर पर बाल्मीकि रामायण का पाठ कर रहे हैं ।सभी जनमानस को बाल्मीकि रामायण के पाठ से जोड़ा जा रहा है तथा सभी की सहभागिता सुनिश्चित की जा रही है । प्राचीन भारतीय संस्कृत के बाल्मीकि जी धरोहर थे उन्हीं के द्वारा रचित बाल्मीकि रामायण का पाठ आज तहसील प्रांगण बुढ़नपुर में हो रहा है । मौके पर पूर्व ग्राम प्रधान बुढ़नपुर अमित कुमार सिंह, प्रधान रायपुर विनोद वर्मा, नगर पंचायत लिपिक मनोज कुमार सिंह ,चंद्रजीत तिवारी,लिपिक अनुपम सिंह ,लेखपाल संघ के मंत्री नरेंद्र बहादुर यादव आदि लोग शामिल रहे।