Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कंटेनर में छिपाकर हो रही थी गोवंश की तस्करी, सूचना पर पुलिस ने पकड़ा, एक गिरफ्तार, 18 गोवंश बरामद



अयोध्या। कानून व्यवस्था की आंखों में धूल झोंक कर गोवंश की तस्करी की जा रही थी एक कंटेनर में गोवंश ओं को छिपाकर ले जाया जा रहा था हालांकि सूचना के बाद तलाशी में मामला पकड़ में आ गया पुलिस ने वाहन के साथ उसके चालक और वाहन में लगे 18 गोवंश बरामद किए हैं। इसमें से एक गोवंश मृत पाया गया है। प्रकरण में पटरंगा थाना पुलिस ने मुकदमा पंजीकृत करवा आरोपी का चालान किया है।

बताया गया कि गोवंश की एक खेप कंटेनर में छिपाकर राष्ट्रीय राजमार्ग के रास्ते बिहार ले जाई जा रही थी। हालांकि लखनऊ गोरखपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर जांच और तलाशी अभियान में जुटी पुलिस को इसकी भनक लग गई। हाईवे चौकी के पास पुलिस ने संदिग्ध कंटेनर को रोककर तलाशी ली तो उसमें क्रूरता पूर्वक लादे गए 18 गोवंश मिले। जिसमें से एक की मौत हो चुकी थी। पुलिस ने कंटेनर के चालक को तत्काल हिरासत में ले लिया।

     रविवार को क्षेत्राधिकारी रुदौली धर्मेंद्र कुमार यादव ने बताया कि पुलिस उपमहानिरीक्षक/वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार के निर्देश पर अपराध एवं अपराधियों के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान में पटरंगा थाना पुलिस ने चेकिंग के दौरान एक ट्रक कंटेनर में 17 जीवित व एक मृत गोवंशीय पशु बरामद किया है। जिनको काटने के लिये लखनऊ से बिहार ले जा रहे थे। पुलिस ने तत्काल कंटेनर के चालक इम्तेयाज अहमद निवासी बहलोलपुर थाना ढाका जनपद मोतीहारी प्रान्त बिहार को गिरफ्तार कर लिया।

पूछताछ में चालक ने बताया कि इस गोवंश की तस्करी में उसके अलावा उजैर राशिद निवासी -234/25 थवई टोला,जनपद-लखनऊ और राशिद निवासी -अज्ञात भी संलिप्त है। क्षेत्राधिकारी ने बताया कि मां प्रकरण में पुलिस ने तीनों के खिलाफ गोवध निवारण अधिनियम और पशु क्रूरता अधिनियम के तहत नामजद मुकदमा पंजीकृत कराया है। पकड़े गए एक आरोपी का चालान किया है।