Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

विधवा महिलाओं हेतु विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन सम्पन्न


एटा। राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण एवं राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के अनुपालन में तथा माननीय अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण/जनपद न्यायाधीश एटा के निर्देशानुसार 19 दिसम्बर को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एटा के तत्वधान में तहसील जलेसर एटा में विधवा महिलाओं एवं विभिन्न अक्षमताओं से ग्रस्त व्यक्तियों से संबंधित कानूनों एवं विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं के संबंध में वर्चुअल शिविर पर वर्चुअल विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। यह वर्चुअल विधिक जागरूकता शिविर सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एटा श्रीमती साधना कुमारी गुप्ता द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संचालित किया गया। शिविर के मुख्य उद्देश्य हेतु सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एटा द्वारा शिविर में उपस्थित विधवा महिलाओं को संबोधित करते हुए महिला सशक्तिकरण एवं महिलाओं के प्रति समाज में हो रहे क्रूर व्यवहार एवं उत्पीड़न से बचने हेतु जानकारी दी गई। साथ ही साथ दहेज उत्पीड़न, घरेलू हिंसा एवं भ्रूण हत्या के संबंध में सरकार द्वारा बनाए गए कानून के बारे में विधिक जानकारी दी गई। सचिव द्वारा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एटा द्वारा दी जाने वाली विभिन्न योजनाओं की निशुल्क विधिक सहायता के बारे में भी महिलाओं को अवगत कराया गया। सचिव द्वारा विधवा महिलाओं को यह भी बताया गया कि उन्हें भी प्रत्येक क्षेत्र में पुरुषों की भांति आगे रहना चाहिए तथा उन्हें अपने बच्चों की शिक्षा पर भी जोर देना चाहिए तथा उनके द्वारा महिला कल्याण विभाग द्वारा सरकार द्वारा संचालित सुकन्या योजना, बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ एवं समाज में हो रहे उत्पीड़न से बचने के लिए जागरूक किया गया। सचिव द्वारा महिलाओं को उत्पीड़न से बचने के लिए सरकार द्वारा जारी टोल फ्री नंबर 1076, 181 पर कॉल करने हेतु प्रेरित किया गया तथा शिविर में उपस्थित विधवा महिलाओं एवं गरीब असहाय व्यक्तियों को निशुल्क विधिक सहायता परामर्श के बारे में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा संचालित योजनाओं के बारे में जानकारी दी गई। सचिव द्वारा शिविर में सभी को यह भी अवगत कराया गया कि कोरोना वायरस से बचने के लिए वे अपनी व्यक्तिगत स्वच्छता पर विशेष ध्यान दें तथा छीकते तथा खांसते समय अपने मुंह पर कपड़ा अथवा रुमाल आदि अवश्य बांधे तथा हर पल अपने चेहरे पर मास्क लगाए रखें तथा अपने हाथों को किसी भी साबुन से प्रत्येक 20 मिनट बाद धोते रहें अथवा सैनिटाइजर का प्रयोग करें तथा सामाजिक दूरी का पालन करें तथा स्वयं को अस्वस्थ महसूस होने पर तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें इस अवसर पर तहसीलदार जलेसर भी उपस्थित रहे।