Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कार सवारों ने पुलिस पर चलाई गोली, मुठभेड़ में तीन गिरफ्तार, तमंचा, कारतूस और कार बरामद, दर्ज हुआ जानलेवा हमले का मुकदमा



अयोध्या। जनपद के जिला मुख्यालय स्थित नगर कोतवाली क्षेत्र में सरेराह कार में शराब पी रहे युवको ने घेराबंदी किए जाने पर पुलिस पर फायरिंग की। पुलिस ने खुद को बचाते हुए तीनों को धर दबोचा। एक युवक के पास से तमंचा कारतूस बरामद किया है। कार को जप्त कर जानलेवा हमला और आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत करवा आरोपियों का चालान किया है। वाकया देर रात नहर बाग क्षेत्र का है।

सोमवार को नगर कोतवाली पुलिस ने बताया कि चौकी प्रभारी चौक को सूचना मिली कि अयोध्या फैजाबाद मुख्य मार्ग पर नगर कोतवाली क्षेत्र के नहर बाग इलाके में तिरुपति मेडिकल सेंटर के पास एक लाल कार सवार तीन युवक कार में ही शराब पी रहे हैं और किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने वाले हैं। पुलिस में कार की घेराबंदी की तो सवार युवकों ने वाहन समेत भागने की कोशिश की फिर नीचे उतरे और पुलिस पार्टी पर फायर झोंक दिया। पुलिस ने खुद को बचाते हुए घेराबंदी कर तीनों को पकड़ लिया। पूछताछ में तमंचा लिए हुए युवक ने अपना नाम पता दुर्गेश सिंह निवासी ताबेपुर थाना छपिया जिला गोंडा और अन्य ने देवेंद्र सिंह यादव निवासी बभन जोतिया थाना छपिया जिला गोंडा व सुरेंद्र वर्मा निवासी ताबेपुर थाना छपिया जिला गोंडा बताया। कार डीएल 8 सीके 6013 का कोई कागजात मौके पर नहीं दिखा सके जिसके चलते वाहन को एमबी एक्ट के तहत जप्त कर लिया गया। तीनों के खिलाफ चौकी प्रभारी चौक में जानलेवा हमला और आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत कराया है। सभी का चालान किया गया है।


रिपोर्ट दर्ज कराने में लगे ढाई घंटे से ज्यादा

कोतवाली से कुछ ही दूरी पर सरेराह पुलिस से मुठभेड़ हुई। पुलिस ने अपने को बचाते हुए घेराबंदी कर कार सवार तीनों लोगों को गिरफ्तार कर लिया। लाल कार में बदमाशों के होने की खबर पर जहां चौकी चौक पुलिस चंद मिनटों में मौके पर पहुंच गई वही पुलिस को युवकों की गिरफ्तारी के बाद मुकदमा दर्ज कराने में लगभग ढाई घंटे लग गए। पुलिस का दावा है कि फायरिंग की घटना के बाद इस शीतलहर और कोहरे के मौसम में मौके पर लोगों का मजमा जुट गया लेकिन कोई गवाह बनने को तैयार नहीं हुआ। गवाह मिले भी तो एक मछली मंडी का और दूसरा ठथरईया का। क्षेत्रीय लोगों की माने तो असल मामला नहर बाग क्षेत्र में आयोजित एक कार्यक्रम में आपसी विवाद का है।