Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

ऑनलाइन फीड हो रहा ड्राई राशन वितरण के लाभार्थियों का डाटा, बेहतर होगी वितरण प्रणाली और मॉनिटरिंग


सरवन शर्मा की विषेश रिपोर्ट 


ऑनलाइन फीड हो रहा ड्राई राशन वितरण के लाभार्थियों का डाटा,


बेहतर होगी वितरण प्रणाली और मॉनिटरिंग 


 राज्य स्तर से सीधे लाभार्थी से हो सकेगा राशन प्राप्ति का सत्यापन 


प्रयागराज- ड्राई राशन वितरण प्रणाली को और बेहतर करने के मकसद से आई.सी.डी.एस. विभाग ऑनलाइन पोर्टल पर सूचना अपलोड कर रहा है। इसमें पोर्टल पर लाभार्थियों की जानकारी के साथ ही राशन की मात्रा भी अपलोड की जा रही है। सारी सूचना पोर्टल पर अपलोड हो जाने के बाद पूरी वितरण प्रणाली ऑनलाइन हो जाएगी।


   जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार राव ने बताया कि ड्राई राशन वितरण की प्रक्रिया के बेहतर मॉनिटरिंग और पारदर्शिता के लिए सारी सूचना पोर्टल पर अपलोड की जा रही है। इसके लिए प्रदेश स्तर पर सभी जिला कार्यक्रम अधिकारी व बाल विकास परियोजना अधिकारियों को तीन दिसम्बर को ऑनलाइन प्रशिक्षण भी दिया गया है। जिले में कुल 22 परियोजना और 4499 आंगनवाड़ी केंद्र हैं। इस सभी में अपलोडिंग का कार्य हो रहा है जिसे ससमय पूरा करने के लिए सभी बाल विकास परियोजना अधिकारियों को आदेश दिया जा चुका है। इससे साथ ही फीडिंग की प्रगति एवं सूचना के लिए आठ बाल विकास परियोजना अधिकारियों को नामित भी किया गया है। कार्य पूरा होने के बाद राशन वितरण की बेहतर मॉनिटरिंग हो सकेगी और राशन वितरण में पारदर्शिता आयेगी। इसका लाभ सीधे लाभार्थियों को मिलेगा।       


   मनोज कुमार राव ने बताया कि वर्तमान में जिले में 3 लाख 88 हज़ार 369 लाभार्थी हैं। इनमें 6 माह से 3 वर्ष के 205115 बच्चे, 3 साल से 6 साल के 88233 बच्चे, 82798 गर्भवती व धात्री महिलाएं और 12223 अति कम वज़न के बच्चे शामिल हैं। अपलोड की जा रही सूचना में लाभार्थी की जानकारी के साथ ही कोटेदार, आंगनवाड़ी केंद्र और राशन की मात्रा भी शामिल है। सम्पूर्ण जानकारी अपलोड हो जाने के पर राशन वितरण के बाद जानकारी हर दिन अपलोड की जा सकेगी। प्रक्रिया ऑनलाइन हो जाने के कारण पूरी प्रक्रिया पर प्रतिदिन प्रगति साझा की जाएगी। राज्य स्तर से सीधे लाभार्थी से संपर्क करके राशन वितरण का सत्यापन भी किया जा सकेगा।