Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

डीएम ने की शासन की प्राथमिकता वाले विकास कार्यक्रमों की समीक्षा, दिए निर्देश


लखीमपुर खीरी:शुक्रवार की देर शाम जिला अधिकारी शैलेंद्र कुमार सिंह ने शासन की प्राथमिकता वाले विकास कार्यक्रमों की बिंदुवार गहन समीक्षा कर संबंधित आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस दौरान मुख्य रूप से मुख्य विकास अधिकारी अरविंद सिंह मौजूद रहे। 

बैठक की अध्यक्षता करते हुए डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने अधिकारियों को शासन की प्राथमिकता वाली विकास योजनाओं में तेजी से प्रगति लाने के निर्देश दिए। शासन द्वारा अब प्रत्येक योजना की ग्रेडिंग की जा रही है अतः सभी अधिकारी तेजी से कार्य कराएं। उन्होंने कहा कि शासन की मंशा के अनुरूप विकासपरक कार्यक्रमों, जनकल्याणकारी योजनाओं, लाभार्थीपरक कार्यक्रमों को समयबद्ध तरीके से पूरी पारदर्शिता व गुणवत्ता के साथ पूरा किया जाए। कार्यदायी संस्थाओं पर शिथिल नियंत्रण रखने वाले अधिकारियो पर भी कार्यवाही की जाय। सभी कार्यालयाध्यक्ष अपने-अपने विभागों से जुड़े कार्यों का अभिनव प्रयोग करने की कोशिश करें, ताकि शासन की मंशा के अनुरूप बेहतर कार्य जो अभिनव प्रयोग के रूप में मिलें, उन्हें योजनाओं में शामिल किया जाए। 

समीक्षा करते हुए डीएम शैलेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि कार्यक्रम क्रियान्वयन विभाग द्वारा जारी रैंकिंग में जिन विभागों की श्रेणी-डी प्राप्त हुई है। ऐसे विभाग अपनी प्रभावी कार्ययोजना बनाकर स्वम नियमित समीक्षा करें और आगामी माह में ए-श्रेणी प्राप्त करें। उन्होंने कहा कि इसमें जिस स्तर पर उनके अथवा सीडीओ के मार्गदर्शन एवं सहयोग की अपेक्षा हो तो उसे ससमय प्राप्त करें।

मुख्य विकास अधिकारी अरविंद सिंह ने कहा कि शासन की प्राथमिकता वाले विकास कार्यक्रमों में गुणवत्ता पर किसी भी स्तर पर कोई समझौता न किया जाए एवं निर्धारित समय सीमा के अंदर विकास कार्य पूर्ण किए जाएं। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओं को समयबद्ध तरीके से मूर्तरूप दिया जाए।

समीक्षा बैठक में डीएम ने मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि डीसी मनरेगा, डीपीआरओ से मिलकर ऐसी ग्राम पंचायतों का चयन करे। जहां गौशालाए खोली जा सके। उन्होंने कहा कि कम से कम प्रत्येक ब्लॉक में एक-एक गौशाला और खुली जाए। इसी प्रकार पशुओं का टीकाकरण व जियो टैगिंग में लाने के निर्देश दिए। प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी) की समीक्षा के दौरान प्रभारी परियोजना अधिकारी (डूडा) रत्नेश चंद्र ने बताया कि लगभग 05 हजार लाभार्थियों को प्रथम, द्वितीय व तृतीय किस्त लाभार्थियों के खाते में प्रेषित की जा चुकी है। सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत जनपद में 18 दुकानों का आवंटन लंबित होने पर डीएम ने शीघ्र ही आवंटन कराए जाने के निर्देश दिए। तहसील मोहम्मदी में 124 तालाबों के पट्टे लंबित होने पर डीएम ने सहायक निदेशक (मत्स्य) संजय यादव को निर्देश दिया कि तहसीलदार मोहम्मदी से समन्वय कर शीघ्र आवंटन की कार्यवाही संपन्न कराएं। समाज कल्याण विभाग की समीक्षा करते हुए डीएम ने कहा कि बड़ी संख्या में आए शादी अनुदान के प्रस्ताव का निस्तारण शीघ्र कराया जाए। सीडीओ अरविंद सिंह ने निर्देश दिया कि छात्रवृत्ति के जो भी आवेदन हैं उनको भी किसी स्तर पर लंबित ना रखा जाए व इसकी नियमित रूप से इसकी मॉनिटरिंग की जाए। मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना की समीक्षा के दौरान जिला प्रोबेशन अधिकारी संजय निगम ने बताया कि पोर्टल ना चलने से आवेदनों में समस्या आ रही है।

बैठक में डीएम ने विभागवार, बिंदुवार, योजनावार एवं मदवार समीक्षा की गई और संबंधित को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। समीक्षा बैठक का सफल संचालन जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी राजेश कुमार सिंह ने किया।

बैठक में पीडी रामकृपाल चौधरी, डीडीओ अरविंद कुमार, डीएसटीओ राजेश कुमार सिंह, सहायक निदेशक सूचना रत्नेश चंद्र सहित अन्य जिला स्तरीय अधिकारी मौजूद रहे।