Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

अवैध कब्जे को लेकर आमने सामने आये दो पक्ष, जिला पंचायत सदस्य के परिवार ने लगाया एसडीएम पर अवैध कब्जा कराने का आरोप

 


कासगंज सर्किल क्षेत्र में अवैध कब्जे को लेकर आमने सामने आये दो पक्ष

जिला पंचायत सदस्य के परिवार ने लगाया एसडीएम पर अवैध कब्जा कराने का आरोप

बोले न्यायालय सेे स्टे आने के बावजूद भी एक पक्ष द्वारा कराया जा रहा है प्लाट पर अवैध निर्माण

कासगंज। सर्किल क्षेत्र में अवैध कब्जे के मामले लगातार सामने आ रहे हैं। जिलापंचायत सदस्य के परिवार ने सदर एसडीएम पर न्यायालय द्वारा स्टे मिलने के बावजूद भी अवैध कब्जा कराने का आरोप लगाया है।इस मामले में दो पक्ष सोमवार को आमने सामने आ गये।हालांकि एसडीएम, सीओ, सोरों कोतवाल भारी मात्रा में पुलिस बल मौके पर पहंुच गया, और उन्होंने मामला कोर्ट में चलने की वजह से दोनों पक्षो को समझा बुझाकर फिलहाल षांत करा दिया।

अवैध कब्जे का मामला सोरों कोतवाली क्षेत्र के गांव कैंडी में सामने आया है। बताया जा रहा है कि जिला पंचायत सदस्य दिवाकर के पिता ने डालचंद से 2010 में प्लाट में जमीन का बैनामा कराया था, जबकि कासगंज के जयपाल सिंह यादव ने डालचंद्र दलित की जमीन को खेत में खरीद कर अपने परचित वीरपाल दलित के नाम करा दिया। जिला पंचायत सदस्य के भाई नीरज का आरोप है कि जयपाल सिंह यादव पडोस में पडे जिला पंचायत सदस्य के प्लाॅट पर कब्जा कर निर्माण कार्य कराने लगे। इससे पूर्व भी इस जगह को लेकर फायरिंग हो चुकी है। इस अवैध निर्माण की खबर सुनकर एसडीएम सदर ललित कुमार, सदर सीओ आरके तिवारी, सोरों कोतवाल अनिल कुमार भारी मात्रा में पुलिस बल मौके पर पहुंच गए।फिलहाल उन्होंने मामला कोर्ट में होने के चलते षांत करा दिया।वहीं नीरज ने बताया कि कोर्ट से स्टे लेने के बावजूद भी सदर एसडीएम ललित कुमार दूसरे पक्ष से सांठगांठ कर प्लाट पर अवैध कब्जा कर निर्माण कार्य करा रहे हैं।

क्या.बोले सदर एसडीएम

कासगंज।जब दोनो पक्षो की बात सुनने के बाद मौके पर पहुंचे सदर एसडीएम ललित कुमार ने मीडिया के कैमरे के सामने नहीं आते हुए बताया कि अभी मामला हल नहीं हुआ है समाधान निकलने पर मीडिया को बताया जायेगा।