Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

लोनी चीनी मिल के तत्वाधान में सम्पन्न हुआ किसान गोष्ठी हुआ आयोजन


शाहाबाद/हरदोई। शनिवार को डीसीएम श्री राम लि० शुगर यूनिट लोनी चीनी मिल क्षेत्र के ग्राम धर्मापुर में गन्ना विकास परिषद, चीनी मिल लोनी एवं गन्ना किसान संस्थान शाहजहाँपुर के संयुक्त तत्वाधान में कृषकों को बसंतकालीन गन्ना बुवाई एवं गन्ना उपज में बृद्वि करने तथा कम लागत में आमदनी को दोगुना करने के उद्देश्य से एक गोष्ठी का आयोजन किया गया। गोष्ठी को संबोधित करते शाहजहाँपुर के सहायक निदेशक डाॅ०पी०के० कपिल ने गन्ने के साथ सहफसली खेती पर किसानों का ध्यान आकर्षित किया। उन्होंने कहा संतुलित मात्रा में उर्वरक का प्रयोग करे। 40 से 50 कु० प्रति एकड़ सड़ी खाद या 20 से 25 कु० सड़ी हुई प्रेसमेड का प्रयोग करे साथ ही नत्रजन 80 किग्रा० फास्फोरस 30 किलो तथा 20-25 किलो पोटास, 10 किलो सल्फर 12 किलो जिंक प्रयोग करने की सलाह दी। ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक लोनी संजय सिंह ने गन्ना विभाग द्वारा चलाई जा रही लाभकारी विभिन्न योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया। इस अवसर पर गन्ना प्रशिक्षण संस्थान शाहजहाँपुर से आये वरिष्ठ वैज्ञानिक डाॅ० सुजीत प्रताप सिंह ने उन्नतिशील किस्मों की जानकारी देते हुए कृषकों को सुझाव दिया कि लाल सड़न रोग से बचाव हेतु विशेष रूप से ध्यान दे यदि उक्त रोग से ग्रसित कोई पौधा है तो उसका समूल नष्ट कर दे और उस स्थान पर 10 से 15 ग्राम ब्लीचिंग पाउडर, थोड़ा पानी, ट्राइकोडरमा, पी०एस०बी० का चार चार कि०ग्रा० कल्चर बनाकर प्रयोग करे। चीनी मिल के वरिष्ठ उपाध्यक्ष कुलदीप सिंह ने कृषकों को बताया बसंतकालीन गन्ना बुवाई के लिए अच्छे बीजों का चयन करके ही बुवाई करे तथा चीनी मिल द्वारा वितरित की जा रही प्रेसमेड का प्रयोग अवश्य अपने खेतों में करे। इस अवसर पर मिल के विभागाध्यक्ष गन्ना विवेक तिवारी ने बताया कि गन्ना बुवाई हेतु उन्नतशील प्रजातियों का बीज किसानों को उपलब्ध कराया जायेगा। गन्ना बीज के संबंध के कृषक मिल के कर्मचारियों से सम्पर्क करें। उन्होंने बसंतकालीन गन्ना बुवाई पर निशुल्क एमएचएटी मशीन द्वारा गन्ना बीज उपचार सहित कृषि यन्त्रों पर दिए जाने वाले अनुदान की जानकारी दी गयी। गोष्ठी का संचालन नेतराम सिंह सहायक प्रबंधक गन्ना द्वारा किया गया। इस गोष्ठी में गन्ना सुपरवाईजर तथा प्रगतिशील कृषक उपस्थित रहे।