Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

उड़ान आजीविका केन्द्र से आंगनबाड़ियों को होगी सूखे राशन की आपूर्ति, राशन वाहन को जिला पंचायत अध्यक्ष ने दिखायी हरी झंण्डी



उड़ान आजीविका केन्द्र से आंगनबाड़ियों को होगी सूखे राशन की आपूर्ति

राशन वाहन को जिला पंचायत अध्यक्ष ने दिखायी हरी झंण्डी

मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान अंतर्गत एक वर्ष में एक करोड़ से अधिक मूल्य का सूखा राशन होगा वितरित

गुणवत्ता एवं पोषणयुक्त भोजन से जिले में कुपोषित बच्चों को होगा लाभ- जि.पं. अध्यक्ष


आज उड़ान आजीविका केन्द्र में आयोजित कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष देवचंद मातलाम एवं जिला पंचायत सीईओ देवनारायण कश्यप ने महिला बाल विकास विभाग को सूखा राशन वितरण हेतु दिये जा रही प्रथम खेप वाहन को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। उल्लेखनीय है कि उड़ान आजीविका केन्द्र में कार्य कर रही स्वसहायता समूह की महिलाओं द्वारा बच्चों को कुपोषण से बचाने के लिये सूखा राशन कलेक्टर पुष्पेन्द्र कुमार मीणा के मार्गदर्शन में महिला बाल विकास विभाग को प्रदान किया जा रहा है। इसके तहत् बच्चों को कोदो, फल्ली दाना, तिल, तेल, शक्कर प्रदान किया जायेगा। इस संबंध में जिला पंचायत अध्यक्ष ने बताया कि मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के अंतर्गत कुपोषित बच्चों को सूखा राशन प्रदान करने के लिए स्वसहायता समूह की महिलाओं को इस कार्य से जोड़कर सूखे राशन की गुणवत्ता सुनिश्चित करने के साथ महिला समूहों को रोजगार भी प्रदान किया जा रहा है। शासन एवं जिला प्रशासन की मंशा रही है कि बच्चों को गुणवत्ता एवं पोषणयुक्त खाद्य सामग्री उपलब्ध कराकर जिले से एक वर्ष के भीतर कुपोषण को पूरी तरह समाप्त करना है। इसके अतिरिक्त उन्होंने उड़ान आजीविका केन्द्र में तैयार किये जा रहे राशन सामग्री, नारियल तेल, चप्पल, दोना पत्तल, मसालों आदि के निर्माण प्रक्रिया को भी देखा एवं उसकी गुणवत्ता की सराहना की।

उल्लेखनीय है कि उड़ान आजीविका केन्द्र की महिलाओं द्वारा 8 हजार 161 बच्चों के लिए एक वर्ष में कुल 290 क्विंटल सूखा राशन भेजा जायेगा। जिसमें कोदो, फल्लीदाना, तेल, शक्कर, तिल शामिल किये जायेगें साथ ही आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को कोदो की खिचड़ी बनाने का प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। इसके द्वारा उड़ान आजीविका केन्द्र के समूहों को विभाग द्वारा कुल एक करोड़ एक लाख रूपये प्राप्त होगें। आज रवाना खेप में दो परियोजनाओं हेतु कुल 28 क्विंटल सूखा राशन प्रदान किया गया। जिसमें 10 क्विंटल कोदो, 7 क्विंटल फल्लीदाना, 5.8 क्विंटल तिल एवं 4.8 क्विंटल तेल प्रदान किया गया है। इस सूखे राशन को महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा दो से छः वर्ष तक के कुपोषित बच्चों को आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के माध्यम से प्रदान किया जायेगा। इस अवसर पर जनपद उपाध्यक्ष दिनेश सेठिया, जिला मिशन प्रबंधक विनय सिंह जिला परियोजना प्रबंधक नितेश देवांगन सहित अन्य अधिकारी कर्मचारी एवं समूह की महिलाएं उपस्थित रही। Kondagaon District DPR Chhattisgarh