Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कोरोना को लेकर आ रहीं खबरों से न घबराएं, यह जरूरी सावधानी अपनाएं



सीतापुर। शकुंतला देवी उच्च रक्तचाप की मरीज हैं और वह प्रतिदिन इसकी दवा लेती हैं जिससे वह सामान्य रहता है। पिछले एक सप्ताह से कोरोना को लेकर चौनलों और सोशल मीडिया पर आ रहीं खबरों को देखकर उनकी तबियत खराब हो गयी और डाक्टर को दिखाने पर पता चला रक्तचाप अर्थात ब्लड प्रेशर बीपी 160-105 हो गया है। डॉक्टर ने उन्हें आराम करने और ऐसी खबरों से दूर रहने की सलाह दी है। सीएमओ डा. मधु भदौरिया बताती हैं कि आजकल हर किसी को कोरोना का भय सता रहा है। हर तरफ डर का माहौल है। ऐसे में जो लोग हाई ब्लड प्रेशर की समस्या से ग्रसित हैं उनमें डर से बीपी अनियंत्रित हो जाता है जो ब्रेन स्ट्रोक और हार्ट अटैक का कारण बन सकता है। वह बताती हैं कि जब व्यक्ति किसी बात से परेशान होता है तो सिम्पेथेटिक नर्वस सिस्टम तनाव के प्रति अपनी प्रतिक्रियाओं को बढ़ा देता है। इस प्रक्रिया से ब्लड प्रेशर बढ़ जाता है। ऐसे में ब्रेन हैमरेज हो सकता है या शरीर के किसी अंग में लकवा मार सकता है। हाथ या पैर सुन्न हो सकते हैं दिल का दौरा भी पड़ सकता है। ऐसे व्यक्ति जो पहले से बीपी की समस्या से ग्रसित हैं उनमें यह समस्या गंभीर रूप ले सकती है। सीएमओ का कहना है कि ऐसे में हम तनाव को कम कर बीपी को नियंत्रित कर सकते हैं। डर की वजह से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता इम्युनिटी प्रभावित होती है जो अनेक बीमारियों का कारण बनती है। इसलिए डर से निपटने के लिए मेडिटेशन और योग करें, हल्का संगीत सुनें और ऐसी खबरों से दूर रहें जो आपको बेचौन करती हैं। सकारात्मक सोचें, घर पर ही टहलें। हवादार कमरे में रहें। सिगरेट, तम्बाकू, शराब का सेवन बिल्कुल न करें। खानपान में सावधानी बरतें, हल्का सुपाच्य भोजन लें। नमक का कम सेवन करें बीपी की दवा अगर ले रहे हैं तो उससे नियमित रूप से लें।