Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कोरोना से बचने का प्राथमिक उपचार बचाव हैं जो एक दूसरे से दूरी बनाकर ही सम्भव हैं :CM



राजेन्द्र यादव की रिपोर्ट.... 


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने बुद्धवार देर शाम प्रदेश में कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम, बचाव,उपचार,जांच, टीकाकरण और निकाय प्रतिनिधियों द्वारा अपने कार्य क्षेत्र में किये जा रहे कार्यो की प्रगति की समीक्षा ग्राम पंचायत और नगर निकाय वॉर्ड स्तर पर गठित निगरानी समितियों के साथ वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से किया जिसका सीधा प्रसारण नौतनवा नगर पालिका अध्यक्ष गुड्डू खान ने अपने कैम्प कार्यालय पर टीवी लगाकर किया। मुख्यमंत्री ने निगरानी समितियों को इससे निपटने के लिए जनप्रतिनिधियों,सरकारी अधिकारियों के साथ-साथ सिविल डिफेंस,स्वयं सेवी संस्थाओं,चौकीदारो,आदि की भी सहायता लेने की सलाह दी।मुख्यमंत्री ने टेस्टिंग पर ज्यादा जोर देते हुए कहा कि इस वायरस से बचने का बचाव ही एक मात्र उपाय हैं एंटीजन टेस्टिंग की संख्या बढ़ाई जाए,स्टैटिक सैम्पलिंग के माध्यम से आरटीपीसीआर के नमूने भेजने के भी निर्देश दिए एवं निगरानी समितियां अन्य राज्यों से घर पहुंचने वाले यात्रियों की मॉनीटरिंग करें,और ऐसे व्यक्तियों की निगरानी करें,जिनमें कोविड-19 के लक्षण मौजूद हों,इससे मरीज को होम आइसोलेट व गम्भीर मरीज को कोरोना सेन्टर भेजने में आसानी होगी उन्होंने सभी जिलाधिकारी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक और मुख्य चिकित्सा अधिकारी को प्रतिदिन सुबह कोविड चिकित्सालय में और शाम को इटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर में बैठक कर स्थिति की समीक्षा करके आगे की रणनीति बनाने के निर्देश दिए तथा कोविड अस्पतालों में पर्याप्त संख्या में बेड,डॉक्टर, पैरा मेडिकल स्टाफ की निरंतर उपलब्धता रखने एवं ऑक्सीजन, वेंटीलेटर और दवाइयों की भी जरूरत के अनुसार उपलब्धता सुनिश्चित करने को कहा।इस अवसर पर पालिका अध्यक्ष गुड्डू खान,अधिशासी अधिकारी बीरेन्द्र कुमार राव,सभासद शाहनवाज खान,भानू कुमार,किसमती देबी,प्रधान लिपिक रमाशंकर सिंह,संतोष श्रीवास्तव रविकांत वर्मा,सत्यप्रकाश,प्रमोद पाठक,आँगनवाणी कार्यकत्री किरण शर्मा,संतोषी देवी,बंदना,गीता देबी,संध्या त्रिपाठी एवं अभिजीत बाल्मीकि के अलावा अन्य सदस्यगण उपस्थित रहे।