Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

उत्तर प्रदेश में सभी जिलों में टॉप 10 अपराधियों की सूची नये सिरे से तैयार किये जाने की कसरत शुरू


लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कड़े निर्देशों के बाद उत्तर प्रदेश में टॉप 10 अपराधियों की सूची नये सिरे से तैयार किये जाने की कसरत शुरू हो गयी है. सीएम योगी ने पहली बार एडीजी जोन की भी जिम्मेदारी इन अपराधियों की मॉनीटरिंग में तय कर दी है. 14 हजार से अधिक अपराधी और 25 से ज्यादा माफिया अब पुलिस के सीधे निशाने पर होंगे.


 


जेलों के टॉप 10 भी होंगे सूचीबद्ध : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर हर जिले के जेल में बंद टॉप 10 अपराधियों को सूचीबद्ध करने के साथ ही उनकी गतिविधियों पर कड़ी निगाह रखने को कहा गया है. जेलों में बंद कई कुख्यात पहले से ही पुलिस के रडार पर रहे हैं. अब इनकी गतिविधियों पर और बारीकी से नजर रखे जाने को कहा गया है.


 


कोरोना संक्रमण के चलते पुलिस करीब तीन माह से अपराधियों की सूची को अपडेट ही नहीं कर सकी थी. अब इस पर काम शुरू हुआ है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कड़े निर्देशों के बाद डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी ने थाना स्तर से लेकर जिले के टॉप 10 अपराधियों की सूची तैयार करने को कहा है. करीब 1500 थानों में टॉप 10 अपराधियों की सूची और हर जिले के टॉप 10 अपराधियों की सूची नए सिरे से अपडेट की जायेगी.


 


सीएम योगी ने दिये ऑपरेशन क्लीन चलने के साफ संकेत : बता दें कि कानपुर कांड के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माफिया और आपराधिक गिरोह पर टूट पड़ो की नीति के तहत कठोरतम कार्रवाई के निर्देश दिये हैं. इस दुर्दांत वारदात के बाद सीएम योगी ने एक बार फिर वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से साफ कहा कि अपराधियों को वहीं पहुंचाइए, जहां उनकी जगह है. उन्होंने माफिया को नये सिरे से सूचीबद्ध कर अभियान के तहत उन पर शिकंजा कसने का भी कड़ा निर्देश दिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर कांड में फरार हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे व उसके साथियों के विरुद्ध कार्रवाई के लिए पुलिस को एक सप्ताह का समय दिया है. कानपुर कांड के बाद अब एक बार फिर सूबे में अपराधियों के खिलाफ ऑपरेशन क्लीन चलने के साफ संकेत हैं.


 


कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र में चार दिन पहले आठ पुलिसकर्मियों के बलिदान के बाद भी प्रदेश में पुलिस पर हमला जारी है. अलीगढ़ में सोमवार सुबह दौड़ लगा रहे कुछ युवकों को पुलिस ने रोका तो इन लोगों ने हमला बोल दिया सुबह गांव के तीन-चार युवकों ने सिपाही व होमगार्ड से मारपीट व तोड़फोड़ कर दी. इसके बाद सिपाही पुलिस चौकी पर ताला लगाकर भाग गये. अलीगढ़ के अतरौली कोतवाली क्षेत्र के गांव तेबथू स्थित पुलिस चौकी पर सोमवार की सुबह गांव के तीन-चार युवकों ने सिपाही व होमगार्ड से मारपीट व तोड़फोड़ कर दी. सुबह यहां पर दौड़ लगा रहे कुछ युवकों को पुलिस ने भीड़ में एक साथ चलने से टोक दिया था. यह बात इन लोगों को इतनी नागवार गुजरी कि इन लोगों का पुलिस के सिपाहियों से काफी विवाद हो गया. इसके बाद इन युवकों ने पुलिस की टीम पर हमला बोल दिया. दहशत के चलते सिपाही व होमगार्ड जवान चौकी पर ताला लगाकर चले गये.