Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

बारहवफ़ात पर पहली बार नहीं निकाला गया जुलूस, सड़कों पर पुलिस का फ्लैग मार्च


आगरा। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस को देखते हुए उत्तर प्रदेश शासन की ओर से जुलूस और प्रदर्शनों पर रोक लगाई गई है। यही वजह है कि शुक्रवार को ईद मिलाद-उन-नबी के मौके पर निकलने वाले बारहवफात के जुलूस को लेकर आगरा जिले के पुलिस कप्तान बबलू कुमार ने दिशा-निर्देश जारी किए हैं। आज किसी भी तरह का कोई जुलूस निकालने की मनाही है। इसके लिए शहर से लेकर देहात में चारों ओर पुलिस फ्लैग मार्च कर रही है। साथ में कोरोना वायरस से बचने के साथ जानकारी दी जा रही है।


आपको बताते चलें कि बारहवफात के पावन पर्व को लेकर मुस्लिम समाज के लोगों में भारी हर्षोल्लास रहता है। मुस्लिम समाज के लोग इकट्ठे होकर जुलूस निकालते हैं। मगर इस बार बारहवफात के पर्व पर जुलूस निकालने पर प्रतिबंध लगाया गया है और धारा 144 लागू कर दी गई है। इतना ही नहीं शहर और देहात में पीएसी बल के साथ में स्थानीय पुलिस की गाड़ियां फ्लैग मार्च कर रही है। शासन के आदेशों का पूर्ण शत-प्रतिशत पालन हो रहा है या नहीं इसकी मॉनिटरिंग जिले के पुलिस कप्तान द्वारा की जा रही है।


बारहवफात के पावन पर्व पर निकलने वाले जुलूस को लेकर जिलाधिकारी प्रभु नारायण सिंह और पुलिस कप्तान बबलू कुमार ने दो दिन पूर्व मुस्लिम समुदाय के धर्मगुरुओं और मुस्लिम समाज के संभ्रांत नागरिकों के साथ में मीटिंग कर दिशा-निर्देश जारी कर दिए थे और किसी भी तरह का जुलूस न निकालने की अपील की थी। फिर भी कहीं कोई कमी या लापरवाही ना रहे इसके लिए खुद मोर्चा जिले के पुलिस कप्तान संभाले हुए हैं और जिले भर की पुलिस को लगातार फ्लैग मार्च करने के दिशा निर्देश जारी किए गए हैं।