Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

गालीबाज दरोगा का वीडियो हुआ वायरल...


जिले की पुलिस का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसने यूपी पुलिस पर एक बार फिर सवालिया निशान खड़ा कर दिया है कि पुलिस बिना गाली-गलौज किए आखिर काम क्यों नहीं करती है और पुलिस सुधरने का नाम नहीं ले रही है। कन्नौज जिले के ठठिया थाना में तैनात ऐसे ही एक गालीबाज दारोगा का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. जिसमें दारोगा पीड़ित पक्ष को समझौता मीटिंग के दौरान धमकी देते हुए गाली-गलौज करता नजर आ रहा है। वायरल वीडियो का संज्ञान लेते हुए एसपी ने मामले की जांच तिर्वा सीओ को सौंप दी है।


कन्नौज क्षेत्र के ठठिया थाना क्षेत्र के गुरौली गांव का है। जहां एक प्रेमिका ने अपने प्रेमी के साथ शादी कर ली थी। जिसके बाद दोनों परिवार में विवाद चल रहा था। पुलिस दोनों पक्षों को बैठाकर समझा रही थी। तभी थाना में तैनात दारोगा रामग्रीश किसी बात से नाराज होकर पीड़ित को गाली गलौज करने लगे। किसी ने पूरे मामले का वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। वीडियो वायरल होते ही विभाग में हड़कंप मच गया। एसपी अमरेंद्र प्रसाद ने बताया कि वायरल वीडियो उन्होंने देखा है। मामले की जांच सीओ तिर्वा को सौंप दी है। जांच के बाद दारोगा के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।


इस मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक अमरेंद्र प्रसाद सिंह का कहना है कि यह वीडियो को मैंने देखा है तो एक सब इंस्पेक्टर है ठठिया थाने के उनके बोल बिखरे हुए हैं और इसकी जांच के आदेश मैंने क्षेत्राधिकारी तिर्वा को मैंने दिया है और इन के विरुद्ध कार्रवाई भी की जाएगी लेकिन आप पूरे वीडियो में आप देखेंगे कि कोई महिला नहीं दिख रही वहां पर बल्कि जो बोल रहे हैं तो उसमें फ्रंट में कोई आदमी नहीं है जिस को गाली दे रहे हो प्रकरण आया है कि एक मुस्लिम महिला ने प्रेमी के साथ कोर्ट मैरिज की थी और उसके घर वाले जो हैं साथ ससुर उसको वहां रहने नहीं दे रहे थे तो महिला यह चाह रही थी कि पति के साथ दोबारा उसका मस्जिद में निकाहनामा पढ़ाया जाए पर उसके साक्षी उसके साथ ससुर रहे और सास-ससुर आ नहीं रहे थे इसलिए जो बीच में आदमी उनके विवाद में मैरियट कर रहा था उसके सामने यह कुछ अपशब्द बोल गए हैं और यह चीज अक्सर एंपैथी की वजह से होती है लेकिन एंपैथी की स्थिति में इस तरह के रिएक्शन को कंट्रोल करना बहुत जरूरी है इसमें ट्रेनिंग भी जरूरी है उनकी काउंसलिंग की जाएगी और जिस तरीके से उन्होंने अपशब्द बोल कर के जो गलती की है जांच उपरांत उनके विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।