Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

कर भला होगा भला अंत भले का भला सिद्धांत पर मदद को चल निकले समाजसेवी वारिस अली अंसारी


काम पार्टी कोई हो पहले हम इंसान हैं


बेसहारे की मदद करना इंसान का धर्म है


गोला गोकर्णनाथ- खीरी: किसी का भी भला करने का साहस हर किसी में नहीं होता कोविड-19 कोरोना काल रहा हो अथवा किसी गरीब की मदद करना पैसे वाले के लिए तो कोई मुश्किल बात नहीं लेकिन गरीबी का दर देख चुके ह्यूमन वेलफेयर फाउंडेशन के अध्यक्ष वारिस अली अंसारी ने कड़ी मेहनत और मशक्कत से अपनी हैसियत बनाने वाले वह पहले शख्स हैं जिन्होंने अपनी चार रोटियों में से लोगों की भूख मिटाने बाले इंसान है जिन्होंने बिना आगा पीछा देखें मदद करने को दौड़ पड़ते हैं ठीक इसी प्रकार लोगों का भला करने वालों में भारत भूषण कॉलोनी निवासी समाजसेवी वारिश अली अंसारी मदद करने में कभी पीछे नहीं हटे।आज शुक्रवार को 139 विधानसभा गोला क्षेत्र के ग्राम परेली में ह्यूमन वेलफेयर फाउंडेशन के अध्यक्ष व सपा नेता एवं समाजसेवी वारिस अली अंसारी ने ग्राम परेली में रामसरन कश्यप के घर पहुंच उनकी बेटी सपना कश्यप जिसकी उम्र 17 वर्ष है जिसका खाना बनाते समय पैर जल गया था लड़की के पिता ने अपनी बेटी का पैर सही कराने के लिए बहुत से डॉक्टरों को दिखाया मगर पैर नही सही हुआ ।


फिर डॉक्टरो ने बताया कि जले घाव से इंफेक्शन होने के कारण पैर अंदर से सड़ रहा है डॉक्टरो ने कहा की पैर काटना पडेगा। उसका पैर काटा गया और परिवार की आर्थिक स्थिति सही ना होने की वजह से समुचित इलाज नहीं करा पा रहे थे तभी किसी ने समाजसेवी वारिश अली अंसारी का नाम सुझाया और उन्हें फोन कर मदद के लिए गांव बुलवाया। समाजसेवी वारिस अली अंसारी वहां पहुंचे उस परिवार का हाल सुनकर बहुत दुख जताया और आर्थिक सहायता दी । इस मौके पर राजू भार्गव, शिवशंकर लाल वर्मा, राजकुमार मिश्रा, वेद प्रकाश कनोजिया, विनोद कुमार वर्मा, शिव कुमार प्रजापति नवीन भार्गव आदि लोग मौजूद थे। मदद पाकर पीड़ित परिवार के आंसू छल छला आये.।