Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

ऑडियो डिलीट करने के बहाने बुलाकर किशोरी को बेरहमी से पीटा,आहत होकर किशोरी.....? 


उत्तर प्रदेश(उत्तर pardes) के गोरखपुर(Gorakhpur) में एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां एक गांव में 17 साल की एक किशोरी ने फंदे से लटककर खुदकुशी कर ली। आरोप है कि गांव के ही एक युवक ने फोन पर किशोरी से बात की और उसे रिकार्ड कर लिया।इसी ऑडियो क्लिप को उड़ाने (डिलीट) के बहाने युवक ने किशोरी को बुलाया। फिर अपने तीन साथियों के साथ मिलकर उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी। इससे आहत होकर किशोरी ने घर में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली।पुलिस ने किशोरी के पिता की तहरीर पर गांव के ही आलोक, गोलू, चंदन और विनय के खिलाफ मारपीट और खुदकुशी के लिए उकसाने की धारा में केस दर्ज किया है। सभी आरोपी फरार हैं। पुलिस की टीमें उनकी तलाश में दबिश दे रही है।जानकारी के मुताबिक, लड़की के माता-पिता एक फार्म पर काम करते हैं। इस वजह से लड़की घर में अकेले रहती थी। पुलिस को किशोरी की मां ने बताया कि लड़की को गांव का चंदन नाम का युवक फोन करके परेशान करता था। उसने बातचीत का ऑडियो बना लिया था।


इसकी जानकारी बेटी ने उन्हें दी थी। इसके बाद चंदन के घरवालों से शिकायत की थी और बेटी को भी समझाया था।बेटी को बुधवार को चंदन ने यह कहते हुए बुलाया कि बातचीत का ऑडियो उसके सामने उड़ा देगा। बहकावे में आकर बेटी गांव में ही स्थित बगीचे में पहुंच गई, जहां पर चंदन समेत चार युवक मौजूद थे। ऑडियो को लेकर उनके बीच कहासुनी हुई। इस दौरान युवकों ने बेटी की बेरहमी से पिटाई कर दी।शोर सुनकर गांव के कुछ लोग पहुंचे तो आरोपी भाग निकले। घटना से आहत किशोरी घर पहुंची और मामले की जानकारी परिजनों को दी। बाद में माता-पिता काम पर चले गए तो किशोरी ने घर में फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली।शाम को घर लौटे पिता ने दरवाजा खटखटाया, लेकिन अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। पिता ने खिड़की से झांककर देखा तो बेटी फंदे से लटकी थी। पिता ने किसी तरह घर के अंदर प्रवेश किया, फिर गांव वालों की मदद से उसे अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पीड़ित पिता ने पुलिस को घटना की जानकारी दी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर तत्काल केस दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।जानकारी के मुताबिक, जिन चार आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है,उसमें से दो किशोरी के चचेरे भाई हैं। युवक ने किशोरी के चचेरे भाइयों के साथ मिलकर पिटाई की थी, जिससे किशोरी ज्यादा आहत थी।गांववालों के मुताबिक, मामला छेड़खानी का ही है। पुलिस को भी पहले सूचना छेड़खानी से आहत होकर खुदकुशी करने की दी गई थी। लेकिन बाद में पिता ने तहरीर में सिर्फ मारपीट से आहत होकर खुदकुशी की बात लिखी। हालांकि मारपीट क्यों की गई, इसकी जानकारी तहरीर में नहीं है।तहरीर में दिए गए मोबाइल नंबर पर जब संपर्क किया गया तो किशोरी की मौसेरी बहन ने फोन उठाया। मौसेरी बहन के मुताबिक, मामला कई दिनों से चल रहा था। छेड़खानी भी हुई थी और गांव का मामला होने की वजह से सुलह समझौता हो गया था। फिर युवकों ने पिटाई कर दी। इस कारण किशोरी ने आत्मघाती कदम उठा लिया।


एसपी साउथ विपुल कुमार श्रीवास्तव ने बताया


पीड़ित पिता की तहरीर पर केस दर्ज कर लिया गया है। आरोपियों की तलाश में पुलिस की टीमें लगी हैं। तहरीर के मुताबिक किशोरी से मारपीट की गई थी। इससे आहत होकर किशोरी के खुदकुशी करने की बात सामने आ रही है। पूरे मामले की जांच हो रही है।