Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

तहसील मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन कर वेटरन्स एशोसिएशन ने विभिन्न समस्याओं के निदान के लिए दिया ज्ञापन

 


रामसनेहीघाट, बाराबंकी। वेटरन्स एशोसिएशन ने किसानों के धान खरीद एवं भुगतान में हो रही अनियमिताओं के साध सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर डेगू बुखार की जांच सुविधा उपलब्ध न होने आदि को लेकर तहसील मुख्यालय पर धरना प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम संबोधित एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी को दिया।


     एशोसिएशन के प्रदेश अध्यक्ष राघवेंद्र सिंह की अगुवाई में उपजिलाधिकारी को दिये गए ज्ञापन में कहा गया है कि प्रदेश के किसानों की स्थिति बद से बदतर होती जा रही है और कोरोना के दौरान आर्थिक परेशानियों के चलते वह लगभग टूट चुका है।वह गेंहूँ की फसल की बोआई नहीं कर पा रहा है क्योंकि सरकारी धान क्रय केन्द्रों पर न तो उसके धान की खरीद नहीं हो पा रही है और जिनका तौल भी गया है उन्हें भुगतान नहीं मिल पा रहा है।पल्लेदारी व अन्य अघोषित कटौतियों के नाम पर कमीशनखोरी की जा रही है जिसे तत्काल प्रभाव से रोका जाय।प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि बाढ़ पीड़ित जिलों के किसानों को समुचित मुआवजा नहीं दिया जा रहा है।इसी तरह ग्रामीण क्षेत्रों में स्थिति सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर डेंगू जैसी जानलेवा बीमारी की जांच की व्यवस्था नही है जिससे लोगों की समय पर जांच नहीं हो पा रही है और लोग बेमौत मारे जा रहे हैं।इसी प्रकार कुत्ता बिल्ली साँप जैसे जहरीले जन्तुओं के काटने पर दवाएं पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध नहीं है।इसी तरह स्वास्थ्य केन्द्रों पर अल्ट्रासाउंड मशीन न होने से गर्भवती महिलाओं एवं अन्य मरीजों की जांच नही हो पाती है जिससे कमीशनखोरी को बढ़ावा मिल रहा है।उन्होंने स्वास्थ्य केन्द्रों पर महिला चिकित्सक एवं रेडियोलॉजिस्ट तैनात करने की मांग मुख्यमंत्री से की है।


       ज्ञापन के अंत में पुलिस द्वारा जवानों एवं किसानों के साथ हो रहे उत्पीड़न को रोकने तथा किसानों के फसल बीमा में पारदर्शिता तथा आपदा के समय क्षतिपूर्ति का भुगतान सुनिश्चित कराने का अनुरोध किया गया है।इस अवसर पर एशोसिएशन कै राष्ट्रीय महासचिव राकेश कुमार शर्मा, प्रदेश सचिव महेन्द्र यादव,किसान मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष चौधरी ज्वाला सिंह,जिलाध्यक्ष संतोष कुमार तिवारी, पूर्व सैनिक दिनेश कुमार, राजेश महाजन, नौमीलाल, शंकरलाल, छंगा यादव, राजेश कुमार आदि मौजूद थे।