Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

भुखमरी के कगार पर नगर निगम ठेकेदार, लंबित भुगतान ना होने से ठेकेदारों में रोष....


आगरा नगर निगम द्वारा कराए गए निर्माण कार्यों का काफी लंबे समय से ठेकेदारों का भुगतान नहीं हो रहा है। पुराने भुगतान के लिए ठेकेदार लगातार निगम के चक्कर काट रहे हैं। जिससे निगम ठेकेदार भुखमरी के कगार पर आ गए हैं। ठेकेदारों का भुगतान काफ़ी समय से लंबित पड़ा हुआ है। इसी को लेकर निगम ठेकेदारों ने कई बार नगर आयुक्त को ज्ञापन भी दिया है। ठेकेदारों का कहना है कि उनको लेवर, मटेरियल आदि का भुगतान भी करना होता है। जबकि उनके द्वारा कराया गया कार्य काफ़ी समय से पूर्ण हो चूका है। ठेकेदारों ने यह भी आरोप लगाए हैं। की अब निर्माण कार्यों की जाँच कमेटी बना कर जांच की जा रही है। ये सब भुगतान ना करने का बहाना है जबकि निर्माण कार्य कराये हुए काफी समय हो चूका है। तब से कार्यों की जाँच क्यों नही कराई गई काफ़ी समय से भुगतान ना होने के कारण नगर निगम के ठेकदारों में रोष व्याप्त है।


नगर आयुक्त नही ले रहे कमीशन


आगरा नगर निगम में कमीशन के मामले लगातार आते रहते हैं। यहां के जनप्रतिनिधि भी पूर्व में इसकी शिकायत मुख्यमंत्री से कर चुके हैं। जबकि आगरा नगर निगम के नवागत नगर आयुक्त खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व प्रधानमंत्री मोदी की नीति अपना रहे हैं। उन्होंने आगरा का चार्ज लेते ही यहां से भ्रष्टाचार को खत्म करने के लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं। अपने अधीनस्थ कर्मचारियों से किसी भी प्रकार का कमीशन ना लेने की हिदायत भी दी है। पूर्व में रह चुके नगर आयुक्त के पीए को भी भ्रष्टाचार में लिप्त पाए जाने पर बर्खास्त कर दिया था और एक अवर अभियंता की भी सेवा समाप्त कर चुके हैं। मगर सूत्रों की माने तो j.e से लेकर मुख्य अभियंता तक निरंतर कमीशन खोरी जारी है.अभी तक इस पर लगाम नही लगाई जा पा रही है। जबकि नगर आयुक्त किसी भी प्रकार का कोई कमीशन नहीं ले रहे हैं।