Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

रेलवे लाइन की पटरियों के किनारे मध्य रात्रि में घुम रहे तेंदुए देख रेलवे कर्मचारी और ग्रामीणों में दहशत



मलिहाबाद लखनऊ। मलिहाबाद क्षेत्र के अंतर्गत सहिलामऊ गांव के बाहर से निकली रेलवे लाइन की पटरियों के किनारे मध्य रात्रि में रेलवे कर्मी ने तेंदुए को अपने मोबाइल के कैमरे में कैद कर लिया जिससे रेलवे कर्मचारी और ग्रामीणों में दहशत मच गई। गुरुवार को वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंच कर सर्च अभियान चलाया और आस पास के ग्रामीणों को सतर्क रहने के लिए जागरूक किया।

वन रेंजर दुबग्गा एस0 के0 शर्मा ने बताया कि तेंदुए की खबर मिलते ही वन विभाग की टीम ने अपना सर्चिंग अभियान जारी कर दिया है रेलवे कर्मी के मुताबिक पग चिन्ह देखे गए हैं लेकिन विभाग के लोगों को कहीं पर भी प्रत्यक्ष रूप से पगचिन्हों के निशान नहीं मिले हैं और न ही तेंदुए के कोई शिकार करने जैसी जानकारी मिली है। रेलवे कर्मचारियों से बातचीत करने व मोबाइल में फोटो देखने के बाद तेंदुए की मौजूदगी तो तय हो चुकी है और उन्होंने ग्रामीणों से अपील की कि सभी लोगों को सतर्क रहने की जरूरत है अकेले न निकले जब भी निकले तो हमेशा झुंड में निकले और अगर कहीं तेंदुआ दिखाई पड़ता है तो उस पर हमला करने की कोशिश या फायरिंग न करें। ऐसी स्थिति में वन विभाग को सूचित करें।उन्होंने यह भी बताया कि शुक्रवार को टीम भेजकर हांका कराने एवं ढोल बजवाने के साथ सर्च अभियान चलाया जायेगा। 

मलिहाबाद- काकोरी रेलवे हल्ट के स्टेशन अधीक्षक मो0 अब्दुल रहमान ने बताया कि बुधवार की सुबह रहमान खेडा के पीछे स्थित रेलवे गेट केबिन मे तैनात कर्मचारी राजेश ने रेलवे लाईन पार करते हुये तेन्दुआ देखकर उसकी फोटो खीचीं थी। वहीं दो तीन दिन पहले रेलवे कर्मचारी सतीश कुमार पाण्डेय ने भी तेन्दुए को देखे जाने एवं गुर्राहट सुनने की जानकारी दी थी। उस समय से लाईन के दूसरी ओर ड्यूटी करने वाले प्वाइंट मैन ने लिखित रूप से रात्रि में ड्यूटी करने से मना कर दिया है।

वहीं पर मौजूद सहिलामऊ निवासी गुड्डू ने बताया की जब से तेंदुए को देखे जाने की सूचना फैली है तब से हम ग्रामीणों में काफी दहशत का माहौल बना हुआ है अब घरों से निकलने में भी काफी डर लग रहा है।