Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

विकास के खजांची जय की एक और जांच रिपोर्ट आरपीएफ ने सौंपी,विकास दुबे के करीबी पूर्ति निरीक्षक को हटाया गया




ब्यूरो कार्यालय (कानपुर):एनकाउंटर में मारे गए गैंगस्टर विकास दुबे के खजांची जय बाजपेयी के रेलवे की जमीनें कब्जा कर बेचने के मामले की जांच पूरी हो गई। आरपीएफ और इंजीनियरिंग विभाग की टीम ने जांच रिपोर्ट उत्तर मध्य रेलवे (प्रयागराज) को भेजी है। वहीं दूसरी तरफ विकास दुबे से संबंध रखने वाले बिल्हौर के पूर्ति निरीक्षक प्रदीप कुमार मिश्रा को जिलापूर्ति कार्यालय से संबद्ध कर दिया गया है। उसकी विभागीय जांच चल रही है।

विकास दुबे के खजांची जय बाजपेयी और उसके भाइयों पर ब्रह्मनगर में रेलवे की जमीन पर कब्जा कर बेचने के आरोप लगे थे। रेलवे अधिकारियों ने इसकी जांच के आदेश दिए। अनवरगंज आरपीएफ इंस्पेक्टर सतेंद्र कुमार और इंजीनियरिंग विभाग के अधिकारी ने जांच शुरू की। जांच में एक बात साफ हो गई कि ब्रह्मनगर में बनी कच्ची बस्ती रेलवे की जमीन पर ही बसी है।

यहां 80 दुकानें भी लोगों ने बना रखी हैं। रेलवे रिकार्ड के मुताबिक यह जमीन लीज पर दी गई थी लेकिन जिन्हें लीज पर जमीन मिली थी वह काफी खोजने के बाद भी नहीं मिले। यहां कई ऐसे लोग रह रहे हैं जो आज भी किराया देते हैं। उन्होंने किराये की रसीद भी दिखाई। आरपीएफ इंस्पेक्टर ने बताया कि रिपोर्ट उत्तर मध्य रेलवे प्रयागराज मंडल को भेजी है। आलाधिकारियों के निर्देश के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।

विकास से बातचीत का वॉयरल हुआ था ऑडियो

बिकरू कांड की जांच के दौरान एसआइटी को उसकी विकास दुबे से बातचीत की ऑडियो रिकॉर्डिंग मिली थी। एसआइटी की रिपोर्ट पर आयुक्त खाद्य एवं रसद विभाग मनीष चौहान ने विभागीय जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। संयुक्त खाद्य आयुक्त, गोरखपुर जांच कर रहे हैं। बिकरू कांड में जांच के दौरान खाद्यान्न वितरण में अनियमितता मिली थी। विकास दुबे के प्रभाव वाले शिवराजपुर ब्लाक के बिकरू, भीटी, कंजती आदि गांवों में राशन वितरण नहीं हो रहा था। 


जांच के दौरान जिलापूर्ति अधिकारी ने तीन दुकानें निरस्त भी की थी। जिलापूर्ति अधिकारी अखिलेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि पूर्ति निरीक्षक को तहसील बिल्हौर से हटाकर जिलापूर्ति कार्यालय कानपुर नगर से संबद्ध किया गया है। अनुज कुमार को बिल्हौर पूर्ति निरीक्षक का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।