Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

दबंग हमलावरों ने बाइक से जा रहे फ़ौजी पर लाठी-डंडे से किया हमला, पिटाई से फ़ौजी मरणासन्न हो गया तो हमलावर भाग निकले



कानपुर के नर्वल में दबंग हमलावरों ने बाइक से जा रहे फ़ौजी पर लाठी-डंडे से हमला कर दिया। पिटाई से फ़ौजी मरणासन्न हो गया तो हमलावर भाग निकले। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने लहूलुहान हालत में अस्पताल ले गए। हमलावरों के खिलाफ परिजनों ने नामजद तहरीर दी है। पुलिस मुकदमा पंजीकृत कर हमलावरों की तलाश शुरू कर दी है। परिजनों के मुताबिक घायल फौजी 24 दिनों की छुट्टी पर घर आया था। पुरानी रंजिश में दबंगों ने हमला किया।

 नर्वल के नेवादा बौसर गांव के निवासी किसान श्याम सुंदर सिंह का पुत्र अजय कुमार यादव उर्फ राजेन्द्र सेना में सिपाही है। अजय की पत्नी नीलम ने बताया कि उसके पति चंडीगढ़ में सप्लाई कोर में सिपाही पद पर तैनात हैं। कुछ दिनों पहले अजय 24 दिन की छुट्टी पर घर आया था। 21 दिसम्बर को उसे वापस जाना था। पत्नी नीलम ने बताया कि बीते बुधवार की दोपहर अजय उसे लेकर बाइक से सरसौल डॉक्टर को दिखाने ले गए थे। वहां से लौटने पर पिता श्याम सुंदर ने खेत मे सिंचाई किये जाने वाले पाइप को लौटाने के लिए कहा तो अजय बाइक से पाइप लौटाने चले गए।

तभी नेवादा बौसर-नर्वल मार्ग पर पास के गांव ककोरन निवासी धर्मेंद्र पाल, दीपक और वीरेंद्र अपने आधा दर्जन साथियों के साथ कार में सवार होकर आए और अजय को रोककर उसे लाठी-डंडे से पीटा। हमलावर उसे सड़क पर मरणासन्न हालत में छोड़कर भाग निकले। शाम को जब रास्ते से राहगीर निकले तो अजय घायल अवस्था मे पड़ा मिला। फिर राहगीरों ने अजय के फोन से परिजनों को उनके घायल होने की सूचना दी।

 मौके पर पहुंचे परिजन अजय को लेकर पास के निजी अस्पताल पहुंचे। जहां से उसे हैलट रेफर कर दिया गया। फिर हैलट से अजय को सेवन एयर फोर्स हॉस्पिटल भेज दिया गया। जहां पर उसका उपचार चल रहा है।

नर्वल एसओ शेष नारायण पांडेय ने बताया कि पुरानी रंजिश के चलते अजय को पीटा गया है। परिजनों की तहरीर पर मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है।