Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

बाल स्वास्थ्य पोषण माह का शुरू , बच्चों को पिलाई गई विटामिन-ए की खुराक



कासगंज । मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रतिमा श्रीवास्तव ने सोमवार को बाल स्वास्थ्य पोषण माह का उदघाटन किया। समस्त आंगनवाड़ी केंद्रों पर स्वास्थ्य विभाग की टीम के सहयोग से बी. एच. एस. एन. डी (ग्रामीण स्वस्थ्य स्वछता एवं पोषण दिवस ) का भी आयोजन किया गया | इसमें 0 से 5साल के समस्त बच्चों को चिन्हित करके उनका वज़न मापा गया | कुपोषित व अति कुपोषित बच्चों का चिन्हाकन किया गया | छूटे हुए बच्चों का टीकाकरण भी किया गया। बाल स्वास्थ्य पोषण माह के तहत नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को विटामिन-ए की खुराक भी दी गई। इसी क्रम मे बाल विकास परियोजना कासगंज जनपद की आंगनवाड़ी केंद्र पर कार्यरत आंगनवाड़ी सहायिका गुल सनोवर ने वार्ड 23 में 0 से 5वर्ष के सभी चिन्हित बच्चों का वज़न किया, जिसमे कोई भी बच्चा कुपोषित अति कुपोषित नहीं पाया गया |

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि सम्पूर्ण टीकाकरण बच्चे को जानलेवा बीमारियों से बचाता है इसलिए 0 से 5वर्ष के बच्चों का सम्पूर्ण टीकाकरण ज़रूर कराएं और 9 माह से 5 वर्ष के बच्चों को विटामिन ए की खुराक ज़रूर दिलवाएं। उन्होंने बताया कि विटामिन ए की खुराक नौ माह से पांच साल तक के बच्चों को हर छह माह के अंतराल पर दी जाती है। इससे बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और आँखों की रोशनी को बढ़ाती है।

जिला कार्यक्रम अधिकारी रावेन्द्र ने बताया कि आंगनवाड़ी कार्यकर्ता 0 से 5 वर्ष के बच्चों के पोषण को नियमित रखने मे महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है |बीएचएसएनडी के मौक़े पर प्रत्येक लाभार्थी को टीकाकरण केंद्र पर बुलाकर वज़न किया जाता है। बाल स्वास्थ्य पोषण माह में बच्चों को विटामिन ए की खुराक भी दी जाएगी। इसके साथ-साथ पोषण की जानकारी भी दी जाएगी। उन्होंने बताया कि 0 से 5 वर्ष के बच्चों की रोग प्रतिरोधक क्षमता, और आँखों की रोशनी बढ़ाने के लिए उनका खाने पीने का ध्यान रखें |फल सब्ज़ी दूध आदि पोषक तत्व दें, जिससे उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बनी रहें और बच्चा कुपोषित होने से बचे | उन्होंने बताया कि बीएचएनडी दिवस पर वजन के साथ साथ सामाजिक दूरी, मास्क, साफ सफाई की जानकारी भी समुदाय मे आंगनवाड़ी कर्यकर्ताओं द्वारा दी जा रही है|