Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

प्राधिकरण एडीए बोर्ड के सदस्यों ने उपाध्यक्ष को दी भ्रष्टाचार व अवैध निर्माणों को लेकर चेतावनी



आगरा एडीए बोर्ड के सदस्यों ने आर पार की लड़ाई का एलान किया है। सदस्यों ने न कल धरना प्रदर्शन किया बल्कि उपाध्यक्ष को कार्रवाई की भी चेतावनी दे डाली। खबर है कि उसके बाद ही जेई के कार्यक्षेत्र बदल दिए गए। अब इस मामले की शिकायत मुख्य्मंत्री योगी जी से करने की बात कही जा रही है।

आगरा विकास प्राधिकरण जयपुर हाउस आगरा में आगरा विकास प्राधिकरण के सदस्य श्री शिव शंकर शर्मा व नगेंद्र प्रसाद दुबे गामा जनता की शिकायतों को लेकर उपाध्यक्ष देवेंद्र सिंह कुशवाह से मिलने गए थे उन्होंने शिकायत करी की एसएस कान्वेंट स्कूल कमला नगर आगरा पर सीलिंग के आदेश जारी किए जा चुके हैं परंतु सीलिंग नहीं की गई ऐसे कई प्रकरण है जिसमें प्राधिकरण द्वारा पहले सीलिंग/ ध्वस्तीकरण के आदेश जारी कर दिए जाते हैं पर उन पर अमल नहीं किया जाता क्योंकि यह उनकी (अधिकारियों) की जेब गर्म होती है इस कारण उसको अमल में नहीं लाया जाता ऐसे कई प्रकरण है जिस पर प्राधिकरण के उपाध्यक्ष व उनके मातहतो द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की गई ऐसी पैंतीस समस्याओं को लेकर एक मांग पत्र दिनांक 23 नवंबर 2020 को उपाध्यक्ष को दिया था जिस पर उपाध्यक्ष ने कार्रवाई हेतु आज सुबह 11:00 बजे लघु सभागार में एक बैठक बुलाई थी प्रातः 11:00 बजे बैठक बुलाए जाने के बाद उपाध्यक्ष स्वयं लगभग 12:15 पर कार्यालय उपस्थित हुए जिस पर सदस्यों ने आपत्ति जाहिर की और आरोप लगाया कि यह माननीय सदस्यों का अपमान है जब 11:00 बजे मीटिंग थी तो उपाध्यक्ष लेट क्यों आए जिसकी वजह से उनके मातहत भी शासन की मंशा के अनुरूप कार्य न कर जनता को कष्ट दे रहे हैं व ठगने का काम कर रहे हैं जिससे योगी जी के शासन व भाजपा की छवि धूमिल हो रही है।

जनप्रतिनिधियों पर हावी होती नौकरशाही

जब प्राधिकरण सदस्यों ने जनता की शिकायतों को लेकर उपाध्यक्ष देवेंद्र सिंह कुशवाहा से शासन की मंशा के अनुरूप कार्य न करने के सवाल जवाब किए इस बात को लेकर वह उखड़ गए और सदस्यों को उपाध्यक्ष ने कार्यालय से बाहर जाने को कह दिया जिसको लेकर सदस्य गणों ने उपाध्यक्ष से तीखी आपत्ति जाहिर की और साथ ही सख्त लहजे में चेतावनी भी दी कि शासन की मंशा के अनुरूप कार्य न करने वाले अधिकारियों को ठीक करने का काम भारतीय जनता पार्टी व शासन द्वारा नामित सदस्य द्वारा किया जाएगा।