Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

टॉफी व मोबाइल का लालच देकर किशोरी को सुनसान में ले जा रहा था फेरीवाला, फिर......


अयोध्या। जनपद के बीकापुर कोतवाली क्षेत्र में एक साइकिल सवार फेरी वाले ने क्षेत्र निवासी किशोरी को हाथ पकड़ सुनसान में ले जाने की कोशिश की। इस दौरान दूसरी बच्ची ने शोर मचा दिया और खेत में काम कर रहे परिजनों और ग्रामीणों ने घेराबंदी कर फेरीवाले को पकड़ लिया। फेरीवाले की पिटाई की और इसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया। प्रकरण में पीड़ित किशोरी की मां ने पुलिस में अगला आबरू पर हमला और पाक्सो एक्ट के तहत नामजद मुकदमा पंजीकृत कराया है। मामला दो संप्रदाय से जुड़ा होने के चलते सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस ने गांव में पीएसी बल को तैनात किया है।


बताया गया कि रविवार को बीकापुर कोतवाली क्षेत्र के ग्राम पंचायत उसरी पहुंचे एक साइकिल सवार फेरी वाले ने दो बच्चियों को अकेला देख बदनियती की कोशिश की। एक 10 वर्षीय किशोरी को टॉफी और मोबाइल देने का लालच दिया और हाथ पकड़कर गांव के बाहर सुनसान स्थान की ओर ले जाने लगा। माजरा देख दूसरी किशोरी ने शोर मचाना शुरू कर दिया तो खेत में बांस की वाड़बंदी कर रहे परिवार के लोग और ग्रामीण आवाज सुनकर दौड़े और साइकिल सवार फेरीवाले को पकड़ लिया। परिवार और ग्रामीणों ने साइकिल सवार फेरीवाले की पिटाई की। मामले की खबर फैली तो क्षेत्र में हलचल मच गई। इसी बीच किसी ने मामले की खबर इलाकाई पुलिस को दे दी तो पुलिस मौके पर पहुंच गई। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को अपनी हिरासत में ले लिया। पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम पता प्रदीप दुबे निवासी ऐमी आलापुर थाना महाराजगंज बताया है। मामले में पीड़ित किशोरी की मां ने प्रदीप दुबे के खिलाफ लिखित शिकायत बीकापुर कोतवाली पुलिस को दी है।


रविवार को क्षेत्राधिकारी बीकापुर अजय कुमार ने बताया कि मामले में बीकापुर कोतवाली पुलिस ने पीड़ित किशोरी की मां की शिकायत पर अपहरण, आबरू पर हमला और पाक्सो एक्ट के तहत नामजद मुकदमा पंजीकृत किया है। कोतवाली पुलिस ने पीड़िता को मेडिकल परीक्षण के लिए भिजवाया है और पकड़े गए आरोपी का चालान किया है। उन्होंने बताया कि मौके पर शांति और सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस के साथ पीएसी बल की तैनाती कर दी गई है।