Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

सड़कों पर मौत बनकर दौड़ रहे गन्ना लदे ओवरलोड वाहन, कई वाहन सीज होने के बाद भी डग्गामार व गन्ना ओवरलोडिंग पर नहीं लग रहा लगाम


भीरा खीरी:खीरी जिला प्रशासन सड़कों पर मौत बनकर दौड़ रहे डग्गामार व ओवरहाइट गन्ना लदे वाहनों पर सख्ती करने में पूरी तरह से नाकाम दिखाई दे रहा है। कई वाहन सीज होने के बाद भी डग्गामार व गन्ना ओवरलोडिंग पर लगाम नहीं लग रही है। बीते माह में कई लोगों की मौत इन्हीं ओवरलोड वाहन की चपेट में आने से हुई तो कई गम्भीर रूप से घायल हो गए थे। इसके बाद भी प्रशासन इन ओवरलोड वाहनों को नजरअंदाज कर रहा है।

इधर चीनी मिलों का पेराई सत्र शुरू हुआ उधर गन्ना आपूर्ति करने वाले ओवरलोड वाहन सड़कों पर फर्राटा भरने लगे। जिलेभर से रोज हादसे व शिकायतें होने के बाद भी जिम्मेदार अंजान बने बैठे हैं। जिसका नतीजा यह है कि हाल ही में गन्ने से ओवरलोड वाहनों से कई दुर्घटनाएं हो चुकी है, लेकिन इसके बावजूद भी प्रशासन मौन है। गन्ने से ओवरलोड वाहन हादसे व जाम का सबब बनते नजर आ रहें है, लेकिन जिम्मेदार इन वाहनों पर कार्यवाही करने से बचते नजर आ रहें है, जिसका खामियाजा सड़क पर चलने वाले राहगीरों व मुख्य मार्ग के किनारे वाले दुकानदारों को भरना पड़ रहा है।

ज्ञात हो कि ओवरलोड गन्ना वाहनों से आए दिन गन्ना सड़क से नीचे गिरता रहता है और ज्यादातर ऐसा पास लेने पर होता है, भीरा कस्वे चौराहे मुख्यमार्ग आबादी क्षेत्र है। सड़क किनारे दुकानें होने के चलते ग्राहकों की भीड़ रहती है। अगर ऐसे में किसी पर भी गन्ने का गठ्ठर गिर जाए तो उसकी हालत का अन्दाजा लगया जा सकता है। गन्ने के ओवरलोड वाहनों से यातायात भी प्रभावित है। यही नहीं सड़क पर वाहन से सफर करने वालों को इन ओवरलोड वाहनों से काफी दिक्कतें हो रही है। यदि समय से गन्ना ओवरलोड वाहनों के खिलाफ कठोर कार्यवाही नहीं की गई तो कभी भी बड़ा हादसा होने से इंकार नहीं किया जा सकता।