Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

Responsive Advertisement

प्रस्टीज इन्फ्रा डेवलेपर्स इंडिया लिमिटेड मुरादाबाद की कंपनी बनी दिवालिया, सदर कोतवाली में करोडो रूपया लेकर फरार होने का मामला हुआ दर्ज



कासगंज। सदर कोतवाली में करोडो रूपया लेकर फरार होने का मामला दर्ज हुआ।कासगंज के निवेाको ने मुरादाबाद के 11 लोगों के खिलाफ जालसाज का मामला दर्ज कराकर मामले में कार्रवाई किए जाने की गुहार लगाई है। बताया जा रहा है कि कंपनी साढे पांच साल में दोगुना और पांच ढेड गुना धन करने को लेकर निवेाको को अपने जाल में फसाया करती थी।

कासगंज कोतवाली पुलिस को तहरीर देकर मामला दर्ज कराने के बाद पीडित ओमप्रकाा निवासी मोहल्ला जयजय राम सिटी रोड, सुभाष चंद्र निवासी दुर्गाकालोनी, मनोज कुमार सोलंकी, राजेन्द्र कुमार ने बताया कि 2009 में मुरादाबाद जनपद के टीडीआई सिटी निवासी राजीव वर्मा ने कासगंज शहर के नदरई गेट स्थित मिान चैराहे पर प्रस्टीज इन्फ्रा डेवलेपर्स इंडिया लिमिटेड कंपनी के नाम से कार्यालय खोला था।

साढे पांच साल में दोगुना करती थी कंपनी

कासगंज। कार्यालय खुलने के बाद निवेाको को साढे पांच साल में धन दोगुना और पांच साल में ढेड गुना करने का लालच दिया गया था। कंपनी 2015 तक निवेाको और ग्राहको के पैसों का लेनदेन भी किया। परंतु 2017 में कंपनी फरार हो गई। साथ कंपनी ने जनपद के निवेाको का इकठठा पैसा कर सहावर के गांव याकूतगंज में 39 एकड जमीन भी खरीद ली। इसी बीच निवेाको ने अपना पैसा मांगा तो आज तक वह टालमटोल करते रहे। अंत में निवेाको का पैसा वापस नहीं हुआ तो वह मुरादाबाद भी पहंुचे, परंतु कोइ्र्र मामला हल नहीं निकला।

इनके खिलाफ हुआ मामला दर्ज

कासगंज। इस मामले में निवेाको ने कंपनी डायरेक्टर राजीव कुमार वर्मा के अलावा चंदना वर्मा, संजीव कुमार, अनिल कुमार, राजेन्द्र कुमार, अनुज कुमार रस्तोगी, पवन कुमार, नितिन कुमार वर्मा, राकेा कुमार, विजेन्द्र कुमार, खेमपाल के खिलाफ धारा 420/467/ 471/ 406/ 504 /506 अभियोग दर्ज कराया है।